बड़ी खबर राष्ट्रीय

वेंटिलेटर सपोर्ट पर पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी, दिल्ली के आर्मी अस्पताल में हुई ब्रेन सर्जरी

कोरोना वायरस से संक्रमित पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की आर्मी अस्पताल में ब्रेन सर्जरी हुई है। जानकारी के मुताबिक ब्रेन में बने खून के एक थक्के को हटाने के लिए यह सर्जरी की गई है। सूत्रों के मुताबिक मुखर्जी की हालत नाजुक बनी हुई है और उन्हें वेंटिलेटर सपोर्ट पर रखा गया है। डॉक्टरों की एक टीम उनकी सेहत पर नजर रखे हुए है।

2012 से 2017 तक देश के राष्ट्रपति रहे 84 वर्षीय प्रणब मुखर्जी ने सोमवार को खुद ट्वीट कर बताया, एक अलग काम के लिए अस्पताल आने पर मैं कोविड-19 पॉजिटिव पाया गया। पिछले सप्ताह अपने संपर्क में आए लोगों से मेरा अनुरोध है कि वे कृपया आइसोलेशन में चले जाएं और कोविड-19 की जांच कराएं।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने प्रणब मुखर्जी के जल्द स्वस्थ होने की कामना की है। उन्होंने मुखर्जी की बेटी शर्मिष्ठा मुखर्जी से बात कर उनके पिता की तबीयत के बारे में जानकारी ली। राष्ट्रपति भवन ने ट्वीट किया, ‘राष्ट्रपति ने शर्मिष्ठा मुखर्जी से बात कर उनके पिता पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की तबीयत के बारे में जानकारी ली। राष्ट्रपति ने उनके जल्द स्वस्थ होने और अच्छे स्वास्थ्य की कामना की।’इससे पहले रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने आरआर अस्पताल जाकर पूर्व राष्ट्रपति के स्वास्थ्य की जानकारी ली। वह अस्पताल में करीब 20 मिनट तक रहे। कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला सहित पार्टी के कई नेताओं ने मुखर्जी के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना की। कांग्रेस पार्टी ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर ट्वीट किया, हम पूर्व राष्ट्रपति के कोविड से जल्द ठीक होने की कामना करते हैं।कांग्रेस नेता और पूर्व राष्ट्रपति के पुत्र अभिजीत मुखर्जी ने ट्वीट किया, मैं अपने पिता के शीघ्र स्वस्थ होने की प्रार्थना करता हूं। मैं अपने सभी देशवासियों से भी अपील करता हूं कि वे उनके ठीक होने और अच्छे स्वास्थ्य के लिए प्रार्थना करें। केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल, राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे, अभिषेक मनु सिंघवी, द्रमुक अध्यक्ष एमके स्टालिन समेत विभिन्न दलों के नेताओं ने पूर्व राष्ट्रपति के जल्द ठीक होने की कामना की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *