बड़ी खबर

पूर्वा एक्सप्रेस में हथियारों के बल पर यात्रियों को लूटा, विरोध पर जमकर पीटा

बेल्‍टों से पीटे गए कई यात्री हुए हैं चुटैल। घायल यात्रियों को टूंडला सीएचसी पर कराया भर्ती। टूंडला जीआरपी ने नहीं लिखी रिपोर्ट।

आगरा, बीती रात हथियारों के बल पर बदमाशों ने पूर्वा एक्सप्रेस में जमकर तांडव मचाया। यात्रियों से हजारों की नकदी, मोबाइल लूट लिए। जिसने भी विरोध किया। उसे बेल्टों से जमकर पीटा गया। जिसके चलते कई यात्री घायल हो गए। घायलों को टूंडला सीएचसी पर भर्ती कराया गया।

घटना बुधवार रात्रि करीब आठ बजे की है। नई दिल्ली से बिहार जा रही पूर्वा एक्सप्रेस के जनरल कोच में पहले से सवार चार बदमाशों ने ट्रेन के अलीगढ़ स्टेशन पहुंचने से पहले लूटपाट शुरू कर दी। तमंचा दिखाते हुए यात्रियों को चुप करा दिया गया।

नई दिल्ली से बिहार शादी समारोह में शामिल होने जा रहे अक्षय दुबे (22), विष्णु दुबे (25) पुत्रगण शशिकांत दुबे निवासी दिलशाद गार्डन दिल्ली व पप्पू राय (22) पुत्र सुभाष राय निवासी मुथर खबासपुर, गोरखटूला, जिला आरा बक्सर बिहार ने विरोध किया तो उन्हें बेल्टों से पीट कर घायल कर दिया। मारपीट होते देख सभी यात्री दहशत में आ गए। बदमाशों ने अक्षय से 3700 रुपये व मोबाइल, विष्णु दुबे से 3150 रुपये व मोबाइल, पप्पू राय से 2300 रुपये, मोबाइल व अन्य यात्रियों से भी नकदी व मोबाइल लूट लिए।

ट्रेन के अलीगढ़ स्टेशन पहुंचने से पूर्व ही बदमाश ट्रेन से उतरकर भाग गए। इस दौरान ट्रेन में पुलिस के जवान दूर-दूर तक नजर नहीं आये। दहशत के चलते यात्री अलीगढ़ स्टेशन पर शिकायत दर्ज नहीं करा पाए। ट्रेन के रात्रि करीब सवा 9 बजे टूंडला स्टेशन पहुंचने पर यात्री मुकदमा दर्ज कराने टूंडला जीआरपी थाने पहुंचे, लेकिन पुलिस ने मुकदमा दर्ज करने की बजाय, घटनास्थल अलीगढ़ बताते हुए उन्हें चलता कर दिया। घायल यात्री उपचार कराने सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र टूंडला पहुंचे। जहां उन्हें प्राथमिक उपचार देने के साथ ही, परिजनों को घटना की जानकारी दी।

पीड़ित यात्रियों ने बताया कि चार बदमाश पहले से ही जनरल कोच में सवार थे। लूटपाट के दौरान जिसने भी विरोध किया उसे बेल्टों से पीटना शुरू कर दिया। जिसके चलते कोई भी विरोध का साहस नहीं जुटा सका। बदमाशों ने तमंचा दिखाते हुए जान से मारने की धमकी दी।

इससे पहले भी ट्रेनों में लूटपाट की घटनाएं हुई हैं। अवध एक्सप्रेस में हुई घटना का अभी तक खुलासा नहीं हुआ। पैसिंजर ट्रेन से आगरा निवासी महिला इंजीनियर को लूटपाट कर फेंकने के मामले में भी पुलिस खाली हाथ है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *