क्राइम

अमेठी में महिला और दो बेटियों को लाठी-डंडों से पीटा

पूरे घटनाक्रम का किसी ग्रामीण ने वीडियो बना लिया और वायरल कर दिया. मामले में पीड़ित पक्ष की तरफ से दी गई तहरीर पर पुलिस ने चार नामजद अभियुक्त व एक अज्ञात के खिलाफ मारपीट का मुकदमा दर्ज किया है. पुलिस ने 2 लोगों को गिरफ्तार भी किया है.

उत्तर प्रदेश के अमेठी जिले में मामूली विवाद में दबंगों ने एक महिला और उसकी दो बेटियों को लाठी-डंडों से पीट दिया. पिटाई का वीडियो वायरल होने के बाद पूरे इलाके में हड़कंप मचा हुआ है. मामले में पुलिस ने दो दबंगों को गिरफ्तार भी कर लिया है.

घटना अमेठी के गौरीगंज थाने के गांव पूरे बिलियन की है, यहां प्लाट में गिट्टी रखने से विवाद हो गया. प्लाट में सामान रखने वाली महिला सुष्मिता सिंह से गांव के दो व्यक्तियों जय बहादुर सिंह और उनके भाई दीपक सिंह ने सामान रखने को मना किया. इसके बाद सुष्मिता ने कहा कि काम खत्म होने के बाद सामान हम खुद ही हटा लेंगे. लेकिन मामला बढ़ गया तो जबरदस्ती करने पर महिला ने डायल 100 पुलिस बुला ली.

महिला का आरोप है कि मौके पर पहुंची पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की और दबंगों ने लाठी-डंडों से महिला और उसकी दो बेटियों, रेखा व साक्षी को बुरी तरह पीटा. इतना ही नहीं बीच-बचाव करने आए उनके बेटे प्रताप व पड़ोस की गुड़िया को भी चोट लग गई है. घायलों को लेकर ग्रामीण अस्पताल लेकर पहुंचे जहां उन्हें गंभीर हालत में भर्ती कराया गया है.

इसी बीच इस पूरे घटनाक्रम का किसी ग्रामीण ने वीडियो बना लिया और वायरल कर दिया. मामले में पीड़ित पक्ष की तरफ से दी गई तहरीर पर पुलिस ने चार नामजद अभियुक्त व एक अज्ञात के खिलाफ मारपीट का मुकदमा दर्ज किया है. पुलिस ने 2 लोगों को गिरफ्तार भी किया है.

वहीं पीड़ित महिला सुष्मिता सिंह का कहना है कि घर की बाउंड्री को लेकर काम चल रहा था, और उसी में विवाद हुआ तो हमने कहा कि जहां से हमारा है, हम वहीं से बाउंड्री कराएंगे. इसके बाद हमने फोन करके 100 नंबर बुलवाया तो वे लोग आए और यह कहकर चले गए कि थाने पर आइए.

अमेठी के अपर पुलिस अधीक्षक शैलेंद्र प्रताप सिंह ने बताया कि मामला गौरीगंज थाने के बेलखरियन एक पुरवा का है. घटना का वीडियो वायरल हुआ है. इसके संबंध में मुकदमा पंजीकृत किया गया है. उन्होंने कहा कि इस पूरे मामले और वायरल वीडियो की जांच के आदेश दिए गए हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *