बड़ी खबर व्यापार

ये Debit cards 31 दिसंबर के बाद हो जाएंगे बेकार, बैंक की ग्राहकों से अपील- जल्द करें ये काम

SBI debit card भारतीय रिज़र्व बैंक की गाइडलाइन के अनुसार SBI अपने ग्राहकों के मैग्नेटिक स्ट्रिप वाले कार्ड्स को ईएमवी चिप और पिन बेस्ड कार्ड्स से बदल रहा है।

नई दिल्ली, देश के सबसे बड़े बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) के अगर आप ग्राहक हैं और अभी भी आपके पास मैग्नेटिक स्ट्रिप वाले एटीएम-कम-डेबिट कार्ड हैं, तो आपको इन्हें जल्द से जल्द बदवाने की जरूरत है। बैंक इन कार्ड्स को बदलकर ग्राहकों को ज्यादा सुरक्षित चिप वाले कार्ड्स दे रहा है। बैंक ने ग्राहकों को पुराने कार्ड्स बदलवाने का एक और मौका दिया है। एसबीआई ने अपने ग्राहकों को 31 दिसंबर 2019 से पहले अपने मैग्नेटिक स्ट्रिप वाले एटीएम कम डेबिट कार्ड्स को बदलकर ईएमवी चिप वाले व पिन बेस्ड एसबीआई डेबिट कार्ड लेने के लिए कहा है।

ग्राहक अगर 31 दिसंबर 2019 तक अपने मैग्नेटिक चिप वाले कार्ड्स नहीं बदलवाते हैं, तो ये कार्ड्स वैधता समय बचे होने के बावजूद डिएक्टिवेट हो जाएंगे। बैंक ने ट्वीट कर यह जानकारी ग्राहकों को दी है।

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया भारतीय रिज़र्व बैंक की गाइडलाइन के अनुसार अपने ग्राहकों के मैग्नेटिक स्ट्रिप वाले कार्ड्स को ईएमवी चिप और पिन बेस्ड कार्ड्स से बदल रहा है। एसबीआई ने एक ट्वीट करते हुए कहा, ‘ग्राहक 31 दिसंबर 2019 से पहले अपने मैग्नेटिक स्ट्रिप वाले डेबिट कार्ड्स को अधिक सुरक्षित ईएमवी चिप और पिन वाले एसबीआई डेबिट कार्ड से बदलने के लिए अपनी होम ब्रांच में आवेदन करें।

यहां बता दें कि ग्राहकों के लिए यह कार्ड बदलने की प्रक्रिया पूरी तरह फ्री है। एसबीआई ने एक और ट्वीट करते हुए कहा, ‘प्रिय ग्राहक, मैग्नेटिक स्ट्रिप कार्ड रिप्लेसमेंट पूरी तरह से फ्री है। यह ऑनलाइन या आपकी होम ब्रांच पर उपलब्ध है। आप कार्ड के लिए ब्रांच में अप्लाई कर सकते हैं और अगर चार्ज लिया जाता है, तो प्रूफ के साथ रिफंड के लिए ब्रांच में रिक्वेस्ट कर सकते हैं।’

ग्राहक चिप बेस्ड कार्ड के लिए इंटरनेट बैंकिंग के जरिए भी आवेदन कर सकते हैं। यहां ध्यान रखने वाली बात यह है कि आपका मौजूदा पता आपके अकाउंट से अपडेट होना चाहिए, क्योंकि कार्ड केवल रजिस्टर्ड पते पर ही भेजा जाएगा। आइए जानते हैं कि ऑनलाइन किस तरह चिप बेस्ड कार्ड के लिए आवेदन किया जा सकता है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *