बड़ी खबर राजनीति

दीपिका को सम्मानित करेगी कमलनाथ सरकार, छपाक पर भाजपा और कांग्रेस में जुबानी जंग छिड़ी

मध्य प्रदेश सरकार छपाक फिल्म को टैक्स फ्री करने के बाद इसकी अभिनेत्री दीपिका पादुकोण का सम्मानित भी करेगी। फिल्म को लेकर भाजपा और कांग्रेस में जुबानी जंग भी छिड़ी हुई है।

भोपाल, मध्य प्रदेश सरकार छपाक फिल्म को टैक्स फ्री करने के बाद इसकी अभिनेत्री दीपिका पादुकोण का सम्मानित भी करेगी। उधर, फिल्म को लेकर भाजपा और कांग्रेस में जुबानी जंग भी छिड़ी हुई है।प्रदेश के जनसंपर्क मंत्री पीसी शर्मा ने कहा कि सरकार फिल्म छपाक के लिए अभिनेत्री दीपिका पादुकोण का सम्मान करेगी।

इंदौर में होने वाले अंतरराष्ट्रीय भारतीय फिल्म अकादमी पुरस्कार (आइफा अवॉ‌र्ड्स) कार्यक्रम के दौरान उन्हें सम्मानित किया जाएगा। वहीं, फिल्म को टैक्स फ्री किए जाने पर छिड़ी सियासत का मुख्यमंत्री कमलनाथ ने ट्वीट कर जवाब दिया। उन्होंने कहा कि फिल्मों व कलाकारों को दलों, विचारधाराओं में बांटना और राजनीति से जोड़ना गलत परंपरा है। देश में किसी को यह हक नहीं कि वह हमें बताएं कि हम कौन-सी फिल्म देखें और कौन-सी नहीं।

उधर, भाजपा ने फिल्म ‘तान्हाजी’ को भी टैक्स फ्री किए जाने की मांग की है। प्रदेश भाजपा के उपाध्यक्ष एवं विधायक रामेश्वर शर्मा ने कहा कि हम महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री और शिवसेना प्रमुख उद्घव ठाकरे से भी मांग करते हैं कि वह तान्हाजी फिल्म को टैक्स फ्री करने के समर्थन में मुख्यमंत्री कमलनाथ को पत्र लिखें। ठाकरे को महाराष्ट्र में इस फिल्म को टैक्स फ्री करना चाहिये, अन्यथा हम मान लेंगे कि ठाकरे ने औरंगजेब के विचारों का अनुसरण करना शुरू कर दिया है।

भाजपा नेता सुरेन्द्रनाथ सिंह और अनिल अग्रवाल ने भोपाल में रंगमहल सिनेमा के बाहर दर्शकों को तान्हाजी फिल्म के मुफ्त टिकट बांटे। उधर, एनएसयूआइ के प्रदेश प्रवक्ता विवेक त्रिपाठी ने कहा कि उन्होंने संगीत सिनेमा के बाहर छपाक फिल्म के 200 टिकट लोगों को मुफ्त में वितरित किए हैं।

मध्य प्रदेश के नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने ‘पोर्न’ संबंधी बयान को फिल्म ‘छपाक’ से जोड़े जाने को कांग्रेस की विकृत मानसिकता बताया है। उन्होंने शुक्रवार को कहा कि एक कमेटी फिल्म देखकर तय करती है कि फिल्म समाज सुधार का संदेश दे रही है या नहीं। इसके बाद उसे टैक्स फ्री (कर मुक्त) करने का फैसला होता। इस परिप्रेक्ष्य में मैंने कहा था कि बगैर फिल्म देखे सरकार ने फैसला कैसे ले लिया। गौरतलब है कि भार्गव ने फिल्म को टैक्स फ्री घोषित करने के सवाल पर हरदा में गुरुवार को पत्रकारों से कहा था कि फिल्म को प्रदर्शन से पहले ही टैक्स फ्री कर दिया गया है। यह फिल्म स्टंट, एक्शन या कुछ भी..यहां तक पोर्न भी होती, तब भी वह ऐसा कर सकते थे।

भार्गव के बयान को कांग्रेस के मीडिया विभाग की अध्यक्ष शोभा ओझा ने महिलाओं के प्रति अपमानजनक बताया था।

राजस्थान के मुख्यमंत्री आशोक गहलोत ने कहा कि प्रदेश में छपाक फिल्म टैक्स फ्री करने को लेकर शीघ्र निर्णय लिया जाएगा। शुक्रवार को मीडिया से बातचीत में गहलोत ने कहा कि इन दिनों देश मे जो कुछ हो रहा है, वह गलत है। प्रधानमंत्री को ध्यान देना चाहिए, वे केवल गृहमंत्रालय पर ही निर्भर नहीं रहें। उन्होंने कहा कि बिना वित्त मंत्री के प्रधानमंत्री द्वारा प्री बजट मीटिंग करने की बात पहली बार सुनी है। जेएनयू हिंसा को दुखद बताते हुए उन्होंने कहा कि यूनिवर्सिटी में नकाबपोशों का हिंसा करना गलत है। पुलिस की भूमिका सही नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *