PM की सुरक्षा में बड़ी चूक, नोएडा से फर्जी IFS कपल गिरफ्तार; अफगानिस्तान कनेक्शन की हो रही जांच

महिला खुद को प्रधानमंत्री (पीएम) की सुरक्षा में तैनात प्रमुख सचिव बताती थी। इसी रौब को देखते हुए चकमा खाई नोएडा व मेरठ पुलिस ने उसे दो-दो एस्कॉर्ट उपलब्ध कराई थी।

नई दिल्ली, स्टार सवेरा ।
दिल्ली से सटे उत्तर प्रदेश के नोएडा में एक फर्जी भारतीय विदेश सेवा (Indian Foreign service) अधिकारी को पति के साथ गिरफ्तार किया है। दंपती के लैपटॉप की जांच के दौरान एक हैरान करने वाली बात सामने आई है, जिसमें फर्जी महिला आइएफएस अधिकारी जोया ने अफगानिस्तान को भी संदेश भेजे थे। बता दें कि पिछले दिनों प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मेरठ यात्रा के दौरान इस फर्जी महिला अफसर ने दो पुलिस एस्कॉर्ट ले ली थी, एक नोएडा से तो दूसरी मेरठ से। यह इस साल पीएम मोदी की सुरक्षा में चूक का एक बड़ा मामला सामने आया है।
vखुद को पीएम की सुरक्षा तैनात प्रमुख बताती थी जोया

मिली जानकारी के मुताबिक, ग्रेटर नोएडा की बिसरख पुलिस ने फर्जी आइएफएस को पति के साथ किया गिरफ्तार किया है। पूछताछ में महिला ने बताया कि वह खुद को प्रधानमंत्री (पीएम) की सुरक्षा में तैनात प्रमुख सचिव बताती थी। इसी रौब को देखते हुए चकमा खाई नोएडा व मेरठ पुलिस ने उसे दो-दो एस्कॉर्ट उपलब्ध कराई थी। जोया महिला मेरठ के एक डॉक्टर की बेटी है और उसके मेरठ, दिल्ली, गाजियाबाद, नोएडा समेत कई जगह फ्लैट हैं।

तीन साल से धोखा दे रही थी कई जिलों की पुलिस को
महिला आइएफएस बताकर तकरीबन तीन साल से मेरठ, नोएडा, गाजियाबाद, मुरादाबाद सहित कई जिलों के पुलिस अधिकारियों को बरगलाकर वीआइपी सुविधाएं ले रही थी। उसके साथ ही सरकारी गनर व एस्कॉर्ट चलती थी।

महिला के विदेश कनेक्शन होने की बा
महिला के विदेश में भी कनेक्शन है। बताया जा रहा है कि महिला का अफगानिस्तान से रिश्ता है। इसकी पोल खुलने पर पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया है। महिला ने कानपुर में एक ज्वाइंट कमिश्नर के बेटे से शादी की है, उसे भी गिरफ्तार कर लिया गया है।

PM की सुरक्षा में बड़ी चूक, नोएडा से फर्जी IFS कपल गिरफ्तार; अफगानिस्तान कनेक्शन की हो रही जांच
महिला खुद को प्रधानमंत्री (पीएम) की सुरक्षा में तैनात प्रमुख सचिव बताती थी। इसी रौब को देखते हुए चकमा खाई नोएडा व मेरठ पुलिस ने उसे दो-दो एस्कॉर्ट उपलब्ध कराई थी।

नोएडा/मेरठ, जेएनएन। दिल्ली से सटे उत्तर प्रदेश के नोएडा में एक फर्जी भारतीय विदेश सेवा (Indian Foreign service) अधिकारी को पति के साथ गिरफ्तार किया है। दंपती के लैपटॉप की जांच के दौरान एक हैरान करने वाली बात सामने आई है, जिसमें फर्जी महिला आइएफएस अधिकारी जोया ने अफगानिस्तान को भी संदेश भेजे थे। बता दें कि पिछले दिनों प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मेरठ यात्रा के दौरान इस फर्जी महिला अफसर ने दो पुलिस एस्कॉर्ट ले ली थी, एक नोएडा से तो दूसरी मेरठ से। यह इस साल पीएम मोदी की सुरक्षा में चूक का एक बड़ा मामला सामने आया है।

खुद को पीएम की सुरक्षा तैनात प्रमुख बताती थी जोया
मिली जानकारी के मुताबिक, ग्रेटर नोएडा की बिसरख पुलिस ने फर्जी आइएफएस को पति के साथ किया गिरफ्तार किया है। पूछताछ में महिला ने बताया कि वह खुद को प्रधानमंत्री (पीएम) की सुरक्षा में तैनात प्रमुख सचिव बताती थी। इसी रौब को देखते हुए चकमा खाई नोएडा व मेरठ पुलिस ने उसे दो-दो एस्कॉर्ट उपलब्ध कराई थी। जोया महिला मेरठ के एक डॉक्टर की बेटी है और उसके मेरठ, दिल्ली, गाजियाबाद, नोएडा समेत कई जगह फ्लैट हैं।

दिल्ली के दिग्गज कांग्रेस नेताओं को भी सता रहा है हार का डर, छोड़ा मैदान !

तीन साल से धोखा दे रही थी कई जिलों की पुलिस को
महिला आइएफएस बताकर तकरीबन तीन साल से मेरठ, नोएडा, गाजियाबाद, मुरादाबाद सहित कई जिलों के पुलिस अधिकारियों को बरगलाकर वीआइपी सुविधाएं ले रही थी। उसके साथ ही सरकारी गनर व एस्कॉर्ट चलती थी।

महिला के विदेश कनेक्शन होने की बात
महिला के विदेश में भी कनेक्शन है। बताया जा रहा है कि महिला का अफगानिस्तान से रिश्ता है। इसकी पोल खुलने पर पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया है। महिला ने कानपुर में एक ज्वाइंट कमिश्नर के बेटे से शादी की है, उसे भी गिरफ्तार कर लिया गया है।

ले रही थी वीआइपी सुविधा
बताया जा रहा है कि पुलिस प्रशासन पर रौब गाठ कर वह मेरठ और नोएडा दोनों जगहों पर वीआइपी सुविधा हासिल कर रही थी। पुलिस ने जोया खान से तीन एप्पल के लैपटॉप भी बरामद किए हैं। एनआइए जोया के लैपटॉप को खंगाल रही कि जोया ने अफगानिस्तान क्यों और कैसे संदेश भेजे थे।

ऐसे हुआ दंपती पर शक
बताया जा रहा है कि अपनी पर्सनैलिटी और रौबदार अंदाज के चलते दंपती पुलिस प्रशासन पर लगातार हावी हो रहे थे। इस बीच एक गलती दोनों पर भारी पड़ गई। दरअसल, बातचीत के दौरान फर्जी आइएफएस अधिकारी ने गौतमबुद्ध नगर के एसएसपी वैभव कृष्ण को भी हड़का दिया। इसके बाद पुलिस को उन दोनों पर शक हुआ।
बताया गया है कि मेरठ कैंट स्थित तिवारी कंपाउंड में डॉ. अयूब खान (एमबीबीएस) का परिवार रहता है। डॉ. अयूब की बेटी जोया खान खुद को आइएफएस बताकर एक्सयूवी गाड़ी में नीली बत्ती लगाकर चलती थी।

वह खुद को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की स्पेशल सुरक्षा में तैनात होकर प्रमुख सचिव के पद पर होना बताती थी। इसको देखते मेरठ पुलिस ने जोया खान को पीएसओ (प्राइवेट सिक्योरिटी ऑफिसर) दरोगा मोहम्मद आसिफ दिया हुआ था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *