बड़ी खबर मनोरंजन

Dussehra 2019: मिलिए पर्दे के पांच रावण से,जिनके दीवाने हैं लोग

ऐसे में टीवी और पर्दे के रावण भी अपनी छवि दर्शकों के बीच छोड़ गए। इस ख़बर में हम आपको ऐसी रावण के बार में बता रहे हैं.

नई दिल्ली, रावण एक ऐसा किरदार जिसे शायद ही कोई अपने जीवन में देखना चाहे। वह जो भारतीय समाज का क्लासिक विलेन है। यह शोले के गब्बर और मोगैंबो से भी बुरा है। वाल्मीकि ने धार्मिक ग्रंथ रामायण लिखा, जिसका विलेन रावण था। इसे भारत में कई बार पर्दे और स्क्रीन पर उतारा गया। एक समय था, जब टीवी वालें घरों में लंबी-लंबी लाइन लगाकर लोग रामनंद सागर की ‘रामायण’ देखते थे। ऐसे में टीवी और पर्दे के रावण भी अपनी छवि दर्शकों के बीच छोड़ गए। इस ख़बर में हम आपको ऐसी रावण के बार में बता रहे हैं…

1.अरविंद त्रिवेदी- रामनंद सागर द्वारा बनाई गई ‘संपूर्ण रामायण’ के सभी किरदार काफी फेमस हुए। इसमें से एक थे अरविंद त्रिवेदी। उस दौर में रामयण देखने वाले दर्शकों के लिए रावण की छवि जो बनी है, वह अरविंद की है। कई रावण को अभियन करने वाले कई एक्टर आए, लेकिन अरविंद जैसा फेमस कोई नहीं हुआ।

2.प्रेम नाथ- आज के समय में ही नहीं, बल्कि रामायण पर आधारित फ़िल्में काफी समय से बनती चली आ रही हैं। ऐसी ही एक फ़िल्म साल 1976 में आई ‘बजरंग बली’। जब हनुमान की बात हो रही है, तब राम और रावण का भी होना बनता है। ऐसे में रावण की भूमिका में प्रेम नाथ नज़र आए। प्रेम नाथ इसके बाद ‘शोर’ और ‘अमीर-गरीब’ जैसी कई फ़िल्मों नज़र आए।

3.कार्तिक जयराम- टीवी की दुनिया बदली। एक्शन और वीएफएस के दौर मे रामयण को फिर से गढ़ा गया। इस बार एकता कपूर ने ‘सिया के राम’ बनाया। जब रामयाण नई बनी, तो रावण भी नया आया। इस बार रावण का किरदार कार्तिक जयराम ने निभाया। कार्तिक कन्नड़ एक्टर हैं, जो कि कन्नड़ बिग बॉस में भी आ चुके हैं। इसके अलावा कार्तिक ने कई फ़िल्मों में भी काम किया है।

4.आर्य बब्बर- टीवी की दुनिया में भी हनुमान को लेकर कई शोज़ बने। इसमें से एक हाल ही में ‘संकट मोचक महाबली हनुमान’ के नाम से आया। हनुमान हों, तो रावण का होना भी जरूरी होता है। क्योंकि बिना विलेन कोई हीरो नहीं बन सकता है। ऐसे में इस शो में रावण का किरदार राज बब्बर के बेटे आर्य बब्बर ने निभाया। आर्य इसके अलावा हिंदी और पंजाबी फ़िल्मों में भी काम कर चुके हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *