दिल्ली

दिल्ली-NCR में नहीं कम हो रहा प्रदूषण, SC में 4 राज्यों के सचिवों की पेशी आज

आनंद विहार में एक्यूआई 187 रिकॉर्ड किया गया है. इस बीच सुप्रीम कोर्ट में सोमवार को चार राज्यों के सचिवों की पेशी होने वाली है. कोर्ट ने पंजाब, हरियाणा, यूपी और दिल्ली के मुख्य सचिव को तलब किया है.

दिल्ली-एनसीआर में प्रदूषण कम होने का नाम नहीं ले रहा है. गाजियाबाद के वसुंधरा में सोमवार सुबह एयर क्वालिटी इंडेक्स 327 दर्ज किया गया है. हालांकि, उत्तर प्रदेश की तुलना में दिल्ली में प्रदूषण कम है. आनंद विहार में एक्यूआई 187 रिकॉर्ड किया गया है. इस बीच सुप्रीम कोर्ट में सोमवार को चार राज्यों के सचिवों की पेशी है. कोर्ट ने पंजाब, हरियाणा, यूपी और दिल्ली के मुख्य सचिवों को तलब किया है. प्रदूषण नियंत्रण को लेकर सभी चार राज्यों में उठाए गए कदमों पर हलफनामा मांगा गया है.

बीते 15 नवंबर को बढ़ते प्रदूषण को लेकर पंजाब, हरियाणा, यूपी और दिल्ली सरकार के मुख्य सचिवों को तलब किया. साथ ही कहा कि पंजाब, हरियाणा, यूपी में अभी भी पराली जलाई जा रही है. इसकी सैटेलाइट इमेज भी है. सभी मुख्य सचिवों को हलफनामा 25 नवंबर तक दायर करना है और 29 नवंबर को कोर्ट में पेश होना है.

केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा दायर कर वायु प्रदूषण का डेटा दिया. सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने पूछा कि एयर क्लीनिंग डिवाइस को लगाने के लिए कितना समय लगेगा? सुप्रीम कोर्ट ने पूछा कि चीन ने कैसे किया? कोर्ट में एक्सपर्ट ने बताया कि हमारे यहां 1 किलोमीटर वाला डिवाइस है, चीन में 10 किलोमीटर तक कवर करता है. सुप्रीम कोर्ट ने पूछा कि आप छोटे इलाके को क्यों कवर करना चाहते हैं?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *