खेल

सौरव गांगुली ने राहुल द्रविड़ से की मुलाकात, अब ऐसे भारतीय क्रिकेट में लगेंगे चार चांद

BCCI अध्यक्ष सौरव गांगुली ने नेशनल क्रिकेट एकेडमी यानी एनसीए के प्रमुख राहुल द्रविड़ से मुलाकात की।

नई दिल्ली, महज 10 महीने के कार्यकाल के लिए भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) अध्यक्ष बने सौरव गांगुली ने बुधवार को राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी (एनसीए) के प्रमुख राहुल द्रविड़ से मुलाकात की। अपनी पूर्व साथी खिलाड़ी राहुल द्रविड़ के साथ बैठकर सौरव गांगुली ने वर्षों से भारतीय क्रिकेट की ‘सप्लाई लाइन’ रही अकादमी को बेहतर बनाने पर बात की।

दोनों धुरंधरों में हुई बात

भारतीय टीम के लिए वर्षों तक साथ खेलने वाले दोनों धुरंधरों ने NCA को लेकर बात की। इस दौरान सौरव गांगुली ने भी अपनी राय भी रखी। गांगुली ने उस प्रस्तावित भूमि का भी मुआयना किया जहां एनसीए की नई अकादमी बनने वाली है। भारतीय क्रिकेट बोर्ड बेंगलुरु में ही एक बड़े भू-भाग पर एक शानदार क्रिकेट एकेडमी बना रहा है, जिससे तमाम खिलाड़ियों को मदद मिलेगी।

बेंगलुरु में बनेगी विशाल क्रिकेट एकेडमी

गौरतलब है कि बीसीसीआइ ने कर्नाटक सरकार से मई में 25 एकड़ भूखंड के लिए करार किया था। अब उसे बेंगलुरु अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के पास सेंटर ऑफ एक्सीलेंस बनाने के लिए 15 एकड़ भूमि अतिरिक्त मिल गई है। भारतीय क्रिकेट को नई पौध प्रदान करने के लिए बनाया गया एनसीए दरअसल पुनर्वास केंद्र बन गया है और गांगुली ने खुद यह बात स्वीकार की थी।

सौरव गांगुली के अध्यक्ष रहते बांग्लादेश की टीम ने भारत में डे-नाइट टेस्ट मैच खेलने पर भी सहमति जताई है। दोनों टीमें पहली बार डे-नाइट टेस्ट मैच खेलने उतरेंगी। ये मुकाबला कोलकाता के ईडन गार्डेंस में होगा, जिसकी जिम्मेदारी अब तक सौरव गांगुली के कंधों पर है, क्योंकि वे मौजूदा समय तक बंगाल क्रिकेट संघ यानी CAB के अध्यक्ष थे।

कोच शास्त्री कर चुके हैं गांगुली-द्रविड़ की सराहना

बता दें कि टीम इंडिया के हेड कोच रवि शास्त्री ने सौरव गांगुली और राहुल द्रविड़ की सराहना की थी। रवि शास्त्री ने कहा था कि बतौर बीसीसीआइ अध्यक्ष सौरव गांगुली और बतौर एनसीए प्रमुख राहुल द्रविड़ भारतीय क्रिकेट बोर्ड को आगे ले जाएंगे। उधर, सौरव गांगुली प्रशासकों की समिति वाले कार्यकाल को भारतीय क्रिकेट के लिए इमरजेंसी का दौर बता चुके हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *