कम होंगी हवाई सफर की मुश्किलें, SpiceJet ने उठाया बड़ा कदम

आर्थिक संकट से जूझ रही एयरलाइन जेट एयरवेज के कई विमान रद्द हो जाने से यात्रियों को असुविधा झेलनी पड़ रही है.

नई दिल्ली, स्टार सवेरा ।

स बीच एयरलाइन कंपनी स्पाइसजेट ने यात्रियों को राहत देते हुए अपने बेड़े में 16 बोइंग 737-800 एनजी विमानों को शामिल करने ऐलान किया है.देश की एयरलाइन कंपनी स्पाइसजेट ने अपने बेड़े में 16 बोइंग 737-800 एनजी विमानों को शामिल करने का ऐलान किया है. स्‍पाइसजेट ने उड़ानें रद्द होने की समस्या को कम करने और अंतरराष्ट्रीय एवं घरेलू स्तर पर अपनी मौजूदगी को बढ़ाने के लिए यह कदम उठाया है. कंपनी ने कहा कि नियामकीय मंजूरी मिलने के बाद , अगले दस दिन में स्पाइसजेट के बेड़े में विमान शामिल होने लगेंगे.

शुक्रवार को एयरलाइन ने कहा , ” स्पाइसजेट बिना चालक दल के विमान किराए पर लेने की व्यवस्था के तहत अपने बेड़े में 16 बोइंग 737-800 एनजी विमान शामिल करेगी. विमानों के आयात के लिए नागर विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) के पास अनापत्ति प्रमाणपत्र (एनओसी) के लिए आवेदन किया गया है. ” ये सभी विमान ड्राई लीज (बिना चालक दल के विमान पट्टे पर लेने की व्यवस्था) के तहत लिए जाएंगे. इस व्यवस्था के तहत , लीज पर विमान देने वाली कंपनी बिना चालक दल के किसी एयरलाइन को विमान किराए पर देती है जबकि ‘ वेट लीज ‘ के तहत पूरे चालक दल के साथ विमान पट्टे पर दिया जाता है.

स्पाइसजेट की ओर से यह घोषणा ऐसे समय की गई है जब अलग-अलग वजहों से उड़ानों की संख्या में तेज गिरावट के चलते हवाई सफर के किराए में वृद्धि हो रही है. दरअसल, मुख्‍य रूप से वित्तीय संकट में फंसी जेट एयरवेज के बेड़े के करीब 90 फीसदी विमान परिचालन से बाहर होने के कारण उड़ान रद्द होने की समस्या खड़ी हुई है. किराये का भुगतान नहीं कर पाने की वजह से जेट एयरवेज विमान खड़े करने के लिए मजबूर होना पड़ा है.

इसके अलावा , इथियोपियाई एयरलाइन विमान हादसे के बाद सुरक्षा कारणों से स्पाइसजेट को अपने 12 बोइंग 737 मैक्स विमानों को परिचालन से बाहर करना पड़ा. बता दें कि 10 मार्च को हुए इस विमान हादसे में चार भारतीयों समेत 157 लोगों की जान गई थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *