स्वास्थ्य

छोटे बच्चे को कब और कैसे खिलाएं अंडे? जानें, क्या कहती है रिसर्च

अमेरिकी बाल रोग अकादमी के अनुसार आप अपने बच्चे को एक बार में एक ही खाना खिलाएं। इसके बाद कम से कम दो और तीन दिन का इंतजार करें। फिर उसे दूसरी चीज टेस्ट कराएं।

नई दिल्ली,  अंडे पोषण के लिए मुख्य स्त्रोतों में शुमार हैं। खासकर बच्चों की सेहत के लिए अंडे बहुत गुणकारी होते हैं, क्योंकि इसे पकाने में कोई झंझट नहीं होता है। साथ ही बच्चे भी अंडे को खूब पसंद करते हैं। ऐसे में बड़ा सवाल यह है कि अपने नवजात बच्चे को किस उम्र में अंडा खिलाना चाहिए? अगर आप भी असमजंस में हैं तो आइए जानते हैं कि नवजात शिशु को किस उम्र में अंडा खिलाना चाहिए

नई गाइडलाइंस के अनुसार, अंडा खिलाने के लिए कोई निर्धारित उम्र नहीं है। जब बच्चा खाना चबाने लगे तो उसे आप अंडे दे सकते हैं। आमतौर पर नवजात बच्चे 6 महीने में भोजन चबाने के लिए तैयार हो जाते हैं। इससे पहले के रिसर्च के अनुसार, बच्चे को दो साल की उम्र के बाद ही अंडे खिलाने चाहिए, लेकिन नए रिसर्च में उन दावों का खंडन किया गया है। इसके साथ ही माता-पिता को सलाह दी गई है कि अगर बच्चे को अंडे खिलाने के बाद कोई एलर्जी नहीं होती है तो आप इसे जारी रख सकते हैं।

अगर आपका बच्चा भोजन चबाने और पचाने में समर्थ हो गया है तो आप अपने बच्चे को अंडे खिला सकते हैं। इसे आप ऐसे भी जान सकते हैं कि अगर आपका बच्चा कुर्सी पर बैठकर अपने सिर को सीधा रख लेता है तो आप उसे अंडे दे सकते हैं।

अमेरिकी बाल रोग अकादमी के अनुसार, आप अपने बच्चे को एक बार में एक ही खाना खिलाएं। इसके बाद कम से कम दो और तीन दिन का इंतजार करें। फिर उसे दूसरी चीज टेस्ट कराएं। इसकी मुख्य वजह एलर्जी है। अगर बच्चे को खाने के बाद किसी चीज से एलर्जी होती है तो उसे वह चीज दोबारा न खिलाएं। कई माता-पिता अपने बच्चे को खाने में सबसे पहले दलिया, फल-फूल और प्रोटीन युक्त चीजें जैसे अंडे और दाल देते हैं।

जब भी आप अपने बच्चे को अंडा खिलाएं तो सुनिश्चित कर लें कि अंडे सही से उबलें हों। अगर अंडे सही से नहीं उबलें होंगे तो बच्चे को साल्मोनेला ( Salmonella ) के साथ-साथ कई अन्य परेशानियां हो सकती हैं। इसके बाद मैश करके ही बच्चे को अंडे खिलाएं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *