मुख्य समाचार राष्ट्रीय

LIVE Nirbhaya Case Justice: पोस्टमार्टम में हो रही देरी, दोपहर बाद परिजनों को सौंपी जाएगी डेडबॉडी

निर्भया मामले के दोषियों के शवों का पोस्टमॉर्टम हरिनगर में दीन दयाल उपाध्याय अस्पताल

(DDU)में थोड़ी देर बाद चिकित्सकों का पैनल शुरू करेगा। डीडीयू अस्पताल में ज्यूडिशियल हैंगिंग के मामले में पहली बार पोस्टमार्टम होगा। यहां जेल मैनुअल और सुप्रीम कोर्ट के दिशा-निर्देशों के अनुसार पोस्टमॉर्टम किया जाएगा। समाचार एजेंसी एएनआइ से अस्पताल के एक सूत्र ने बताया कि न्यायिक मामले की पोस्टमार्टम रिपोर्ट सामान्य मामले से अलग होती है। दोपहर 12:30 बजे तक ऑटोप्सी पूरी होने की संभावना है। इसके बाद दोषियों के शव उनके परिजनों को सौंप दिए जाएंगे।

अक्षय की पत्नी डीडीयू अस्पताल पहुंचने के बाद अक्षय के शव की पहचान की। अभी तक विनय, मुकेश व पवन के परिजन नही पहुंचे हैं। थोड़े देर बार बाद चिकित्सकों का पैनल शुरू करेगा पोस्टमार्टम। डीडीयू अस्पताल में ज्यूडिशियल हैंगिंग के मामले में पहली बार पोस्टमार्टम होगा।
समाचार एजेंसी एएनआइ से DDU अस्पताल के एक सूत्र ने बताया कि न्यायिक मामले की पोस्टमार्टम रिपोर्ट सामान्य मामले से अलग होती है। दोपहर 12:30 बजे तक ऑटोप्सी पूरी होने की संभावना है।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने निर्भया मामले में चारों दोषियों को फांसी होने को बाद कहा कि आज यह संकल्प लेने का दिन है कि हम एक और निर्भया कांड की नहीं होने देंगे। बता दें कि सात साल के लंबे इंतजार के बाद आज निर्भया को इंसाफ मिला। चारों दोषियों को आज फांसी दे दी गई।

निर्भया मामले के दोषियों के परिजनों को लिखित में एक वचन देना होगा कि वे इनके अंतिम संस्कार के संबंध में किसी भी प्रकार का सार्वजनिक प्रदर्शन नहीं करेंगे। बता दें कि दोषियों के शवों को उनके परिजनों को पोस्टमार्टम के बाद सौंप दिया जाएगा।

निर्भया मामले के दोषियों के शवों को पोस्टमॉर्टम के लिए डीडीयू अस्पताल लाया गया। यहां जेल मैनुअल और सुप्रीम कोर्ट के दिशा-निर्देशों के अनुसार पोस्टमॉर्टम किया जाएगा। पोस्टमॉर्टम के बाद दोषियों के शव उनके परिजनों को सौंप दिए जाएंगे।

तिहाड़ जेल प्रशासन के अनुसार के निर्भया केस के सभी चार अपराधियों के शवों को पोस्टमॉर्टम के बाद उनके परिजनों को सौंप दिया जाएगा। बता दें कि चारों आरोपियों को आज सुबह 5.30 बजे फांसी दी गई। फांसी दिए जाने के बाद डॉक्टर ने के शव का परीक्षण कर मौत की पुष्टि की। चारों शव का हरिनगर में दीन दयाल उपाध्याय अस्पताल में पोस्टमार्टम होगा।

उत्तर प्रदेश के बलिया जिले में स्थित निर्भया के गांव के लोग खुशी मना रहे हैं। बता दें कि आज सुबह 5.30 बजे दिल्ली के तिहाड़ जेल में चारों दोषियों को फांसी दे दी गई।

निर्भया के पिता ने कहा, आज हमारी जीत हुई है और यह मीडिया, समाज और दिल्ली पुलिस की वजह से संभव हुआ। मेरी मुस्कुराहट से आप समझ सकते हैं कि मैं कितना खुश हूं।
निर्भया को 7 साल बाद न्याय मिला- स्वाति मालिवाल

समाचार एजेंसी एएनआइ के अनुसार दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालिवाल ने कहा कि यह एक एतिहासिक दिन है, निर्भया को 7 साल बाद न्याय मिला, उसकी आत्मा को आज शांति मिली होगी। देश ने दुष्कर्मियों को एक कड़ा संदेश दिया है कि अगर किसी ने यह अपराध किया तो उसे फांसी दी जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *