क्राइम बड़ी खबर

जिसे समझा था ‘एक्सीडेंट’, वो निकला ‘मर्डर’, CCTV से हुआ खुलासा

उज्जैन में कुछ दिन पहले हुई एक युवती की मौत के मामले में पुलिस ने नया खुलासा किया है.

युवती की मौत को शुरुआती तौर पर एक एक्सीडेंट माना जा रहा था, लेकिन मामला हत्या का निकला. पुलिस ने हत्या के आरोपियों को भी गिरफ्तार कर लिया है.
मध्य प्रदेश के उज्जैन में कुछ दिन पहले हुई एक युवती की मौत के मामले में पुलिस ने नया खुलासा किया है. दरअसल, युवती की मौत को शुरुआती तौर पर एक एक्सीडेंट माना जा रहा था, लेकिन मामला हत्या का निकला. पुलिस ने हत्या के आरोपियों को भी गिरफ्तार कर लिया है.

दरअसल, 15 नवंबर को उज्जैन के चिंतामन बाईपास रोड पर स्वाति भट्ट नाम की युवती को एक मैजिक वाहन ने टक्कर मार दी थी, जिससे उसकी मौत हो गई थी. पुलिस को घटना की जानकारी अस्पताल से मिली थी जब अस्पताल से पुलिस के पास फोन गया था कि एक युवक थोड़ी देर पहले एक लड़की को अस्पताल में छोड़कर चला गया है. पुलिस जब हॉस्पिटल पहुंची तब तक लड़की की मौत हो चुकी थी.

सीसीटीवी से पहचान

पुलिस ने सीसीटीवी खंगाले तो उसमें एक युवक दिखा जिसकी पहचान सुखविंदर खनूजा के रूप में हुई. वहीं, दुर्घटना के बाद रोड से गुजरते एक मैजिक वाहन भी सीसीटीवी में दिखा था, जिसकी पड़ताल करने पर पता चला कि वाहन इंदौर का है. रजिस्ट्रेशन नंबर के आधार पर उसके चालक को भी पुलिस ने हिरासत में ले लिया. शुरुआती पूछताछ के बाद जब पुलिस ने सख्ती दिखाई तो पूरे मामले का खुलासा हो गया.

प्लानिंग के तहत मर्डर

उज्जैन एसपी सचिन अतुलकर ने बताया कि ‘पूछताछ में खुलासा हुआ कि ये एक्सीडेंट नहीं, बल्कि एक सोच समझकर प्लानिंग के तहत किया गया मर्डर था, जिसे दुर्घटना की शक्ल दी गई थी. मृतका स्वाति भट्ट को जिस युवक ने हॉस्पिटल पहुंचाया था, वही इस पूरे हत्याकांड का मास्टरमाइंड निकला.

दरअसल, मृतका उस युवक की गर्लफ्रैंड रह चुकी थी. युवक शादीशुदा है, लेकिन स्वाति लगातार उस पर शादी का दबाव बनाती थी. यही नहीं, उसने चार साल पहले सुखविंदर पर रेप का मामला भी दर्ज करवाया था, लेकिन तब दोनों के बीच समझौता हो गया था, लेकिन लगातार शादी का दबाव बनाने के कारण सुखविंदर ने युवती को रास्ते से हटाने का मन बना लिया.

वहीद को सुपारी दी

एसपी सचिन अतुलकर ने बताया, ‘सुखविंदर ने इसके लिए इंदौर के रहने वाले पंकज से सौदा किया. पंकज ने मैजिक वाहन चलाने वाले वहीद को सुपारी दी. वहीद और उसका एक साथी समीर हत्या वाले दिन मैजिक वाहन से उज्जैन पहुंचे जबकि पंकज, उसकी पत्नी और एक दोस्त संजय बाइक से उज्जैन आए.

एसपी सचिन अतुलकर ने बताया, ‘यहां चिंतामन बाइपास पर पहले तो स्वाति को मारपीट कर घायल किया उसके बाद उस पर मैजिक वाहन चढ़ा दिया, जिससे उसकी मौत हो गई.’

पुलिस के मुताबिक, हत्याकांड में शामिल आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है और हत्या में इस्तेमाल वाहन को जब्त कर लिया गया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *