दिल्ली बड़ी खबर

17 मई के बाद क्या करे दिल्ली सरकार, सीएम केजरीवाल ने मांगे जनता से सुझाव

Coronavirus दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने लॉक डाउन में ढिलाई के मुद्दे पर जनता से सुझाव मांगे हैं।

नई दिल्ली । दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने लॉकडाउन में ढील जाने के मुद्दे पर जनता से सुझाव मांगे हैं। उन्होंने कहा कि क्या लॉकडाउन में ढिलाई दी जानी चाहिए। अगर दी जानी चाहिए तो कितनी और किस क्षेत्र में कितनी कितनी दी जानी चाहिए। क्या ऑटो टैक्सी चालू होने चाहिए क्या स्कूल खोलने चाहिए मार्केट खुलने चाहिए, इंडस्ट्रियल एरिया खुलना चाहिए।

डिजिटल प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए सीएम केजरीवाल ने कहा कि 17 मई के बाद ढील दिया जाना चाहिए या नहीं इस मुद्दे पर मैं जनता के सुझाव भी ले रहा हूं। इसके साथ ही एक्सपर्ट से भी बात की जाएगी। सीएम ने कहा कि इस मुद्दे पर डॉक्टर से भी बात की जाएगी। डॉक्टर और एक्सपर्ट से बात करके हम दिल्ली वालों की तरफ से प्रस्ताव बनाकर केंद्र प्रकार को भेज देंगे।

प्रधानमंत्री मोदी के साथ सोमवार को हुई मीटिंग का जिक्र करते हुए केजरीवाल ने कहा कि प्रधानमंत्री ने कहा है कि 15 तारीख तक अपने-अपने सुझाव भेज दीजिए और उन सुझावों पर फिर केंद्र सरकार निर्णय लेगी। प्रधानमंत्री ने पूछा कि कौन सा राज्य क्या चाहता है।

केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में बहुत सारे कंस्ट्रक्शन का काम करने वाले मजदूर हैं। पिछले महीने पंजीकृत मजदूरों के खाते में 5000 डाले थे। इस महीने फिर से 5000 रुपये उनके खातों में डाला जा रहा है। सीएम ने कहा कि कोरोना संक्रमण को देखते हुए शारीरिक दूरी के नियमों का पालन करना होगा। सबको मास्क पहनना अनिवार्य है।

सीएम केजरीवाल ने नगर निगम स्कूल की टीचर की कोरोना से मौत पर दुख जताया। उन्होंने कहा कि उनका सेवा करते करते कोरोना के चलते देहांत हो गया। उनकी ड्यूटी लगी थी कि गरीबों के लिए जो दिल्ली सरकार खाना बांट रही है उसको गरीबों को बांटे। 4 मई को उनका देहांत हो गया। खाना बांटते वक्त उनको भी कोरोना हो गया। उनके परिवार को दिल्ली सरकार 1 करोड़ रुपये देगी। हमें ऐसे कोरोना वारियर पर गर्व है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *