खेल

भारत जीत से 2 विकेट दूर, लंच तक साउथ अफ्रीका का स्कोर

भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच तीन मैचों की टेस्ट सीरीज का पहला मुकाबला विशाखापत्तनम के एसीए-वीडीसीए स्टेडियम में खेला जा रहा है.

भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच तीन मैचों की टेस्ट सीरीज का पहला मुकाबला विशाखापत्तनम के एसीए-वीडीसीए स्टेडियम में खेला जा रहा है. टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए टीम इंडिया ने 7 विकेट गंवाकर 502 रन बनाए और अपनी पहली पारी घोषित कर दी. जवाब में दक्षिण अफ्रीका अपनी पहली पारी में 431 रनों पर ऑलआउट हो गई. पहली पारी के आधार पर भारत को 71 रनों की बढ़त मिली. दूसरी पारी में भारत ने 4 विकेट खोकर 323 रन बनाए और दक्षिण अफ्रीका के सामने 395 रनों का लक्ष्य रखा. विशाल लक्ष्य का पीछा करते हुए दक्षिण अफ्रीका ने 8 विकेट गंवा कर 117 रन बनाए हैं. भारत अब जीत से 2 विकेट दूर है.

थ्यूनिस डी ब्रूइन 10 रन बनाकर अश्विन की गेंद पर आउट हुए. मोहम्मद शमी ने टेम्बा बवूमा को खाता खोले बिना ही पवेलियन भेज दिया. इससे पहले ओपनर डीन एल्गर चौथे दिन 2 रन बनाकर रवींद्र जडेजा की गेंद पर आउट हो गए. फाफ डु प्लेसिस 13 रन बनाकर शमी की गेंद पर ही बोल्ड कर दिया. क्विंटन डि कॉक खाता खोले बगैर शमी की गेंद पर ही बोल्ड हो गए. एडेन मार्करम 39 रन बनाकर रवींद्र जडेजा की गेंद पर पवेलियन लौट गए. जडेजा ने वर्नोन फिलेंडर (0) और केशव महाराज (0) को एलबीडब्ल्यू कर दिया.

अश्विन ने की मुरलीधरन के रिकॉर्ड की बराबरी

रविचंद्रन अश्विन ने दूसरी पारी में थ्यूनिस डी ब्रुइन को आउट कर सबसे तेज 350 टेस्ट विकेट लेने के मामले में पूर्व श्रीलंकाई स्पिन गेंदबाज मुथैया मुरलीधरन के रिकॉर्ड की बराबरी कर ली है. वहीं अश्विन सबसे तेज 350 टेस्ट विकेट लेने वाले भारतीय गेंदबाज बन गए हैं. अश्विन ने अपने टेस्ट करियर के 66वें मुकाबले में 350 विकेट लेने का कारनामा किया है. अब वह मुरलीधरन के साथ संयुक्त रूप से सबसे तेज 350 टेस्ट विकेट लेने वाले गेंदबाज बन गए हैं. मुरलीधरन ने भी अपने 66वें टेस्ट में बांग्लादेश के खिलाफ 2001 में 350 टेस्ट विकेट पूरे किए थे. मुरलीधरन टेस्ट में 800 विकेट का आंकड़ा छूने वाले दुनिया के इकलौते गेंदबाज हैं.

भारत ने अफ्रीका को दिया 395 रनों का टारगेट

दूसरी पारी में भारत ने 4 विकेट खोकर 323 रन बनाए और दक्षिण अफ्रीका के सामने 395 रनों का लक्ष्य रखा. पहली पारी के आधार पर भारत को 71 रनों की बढ़त मिली थी. भारत के लिए दूसरी पारी में रोहित शर्मा ने 127 रन बनाए. रोहित शर्मा ऐसे पहले बल्लेबाज बन गए हैं, जिन्होंने ओपनर के तौर पर डेब्यू करते हुए एक ही टेस्ट मैच की दोनों ही पारियों में शतक जड़ दिया है.

रोहित शर्मा ने 149 गेंदों का सामना किया और 10 चौके तथा सात छक्कों की मदद से इस मैच में अपना दूसरा शतक जमाया. उनके अलावा चेतेश्वर पुजारा ने 148 गेंदों पर 81 रन बनाए. दक्षिण अफ्रीका के लिए केशव महाराज ने दो विकेट लिए. वर्नोन फिलेंडर और कैगिसो रबाडा के हिस्से एक-एक विकेट आया.

दक्षिण अफ्रीका पहली पारी में 431 रनों पर ऑलआउट

दक्षिण अफ्रीका अपनी पहली पारी में 431 रनों पर ऑलआउट हो गई. पहली पारी के आधार पर भारत को 71 रनों की बढ़त मिली. दक्षिण अफ्रीका को यहां तक पहुंचाने में डीन एल्गर और क्विंटन डी कॉक का अहम योगदान रहा है. एल्गर ने 160 रन बनाए. उन्होंने अपनी पारी में 287 गेंदों का सामना किया और 18 चौकों सहित चार छक्के लगाए.

डि कॉक ने 163 गेंदों पर 16 चौके और दो छक्कों की मदद से 111 रन बनाए. इन दोनों के बीच छठे विकेट के लिए 164 रनों की पार्टनरशिप हुई. इन दोनों के अलावा कप्तान फाफ डु प्लेसिस ने 55 रनों का योगदान दिया. फाफ डु प्लेसिस और डीन एल्गर ने पांचवें विकेट के लिए 115 रन जोड़े.

रविचंद्रन अश्विन ने 7 विकेट अपने नाम किए

रविचंद्रन अश्विन ने मौके का पूरा फायदा उठाते हुए दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पहली पारी में 7 विकेट झटके. अश्विन ने एडेन मार्करम, थ्यूनिस डी ब्रुइन, फाफ डु प्लेसिस, क्विंटन डि कॉक, वर्नोन फिलेंडर, केशव महाराज और कैगिसो रबाडा को अपना शिकार बनाया. रवींद्र जडेजा ने दो सफलताएं अर्जित कीं. ईशांत शर्मा के हिस्से एक विकेट आया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *