दिल्ली बड़ी खबर

दिल्ली: कॉलोनियों पर नया पेच, सीएम बोले- न तो कॉलोनियां रेगुलराइज होंगी न मकान

दिल्ली विधानसभा चुनाव की दहलीज पर पहुंचते ही बीजेपी की केंद्र सरकार ने जहां अनाधिकृत कॉलोनियों में रहने वाले लोगों को मालिकाना हक देने का दाव खेला, तो वही आम आदमी पार्टी अब सवाल उठा रही है.

दिल्ली विधानसभा चुनाव की दहलीज पर पहुंचते ही बीजेपी की केंद्र सरकार ने जहां अनाधिकृत कॉलोनियों में रहने वाले लोगों को मालिकाना हक देने का दाव खेला, तो वही आम आदमी पार्टी अब सवाल उठा रही है. अनाधिकृत कॉलोनियों के नियमितीकरण को लेकर बीजेपी और आम आदमी पार्टी के बीच सियासत भी तेज हो गई है.

दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने आरोप लगाया है कि केंद्रीय शहरी विकास मंत्री हरदीप पुरी अनाधिकृत कॉलोनियों के नियमितीकरण को लेकर के झूठ बोल रहे हैं.

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री का आरोप है कि जिस डीडीए को इन अनाधिकृत कॉलोनियों में नियमितीकरण की प्रक्रिया का पालन करना है, उसकी वेबसाइट पर लिखा है कि इस योजना के जरिए ना तो कॉलोनियां नियमित होंगी ना ही उनके मकान नियमित होंगे. सिसोदिया ने कहा, ‘अनाधिकृत कॉलोनियों के बारे में बीजेपी ने झूठ बोला, हरदीप पुरी जी ने खोली बीजेपी की पोल. डीडीए की वेबसाइट पर लिखा- नहीं, ना तो अनाधिकृत कॉलोनियों का और न ही वहां निर्मित क्षेत्र का नियमितीकरण है.

जैसे ही आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता और दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया का बयान आया. उसके तुरंत ही केंद्रीय शहरी विकास मंत्री और दिल्ली में बीजेपी के सह प्रभारी हरदीप पुरी ने पलटवार करते हुए कहा, ‘आपने लोगों को धोखा दिया और अब उनको शब्दों के जाल में उलझा रहे हैं, यही इनका धंधा है. जब भी दिल्ली के हित में कोई काम होता है तो यह उसमें रोड़े अटकाते हैं. यह 5 साल में दिल्ली की 1731 अनाधिकृत कॉलोनियों का नक्शा नहीं बनवा पाए और उसके बाद भी कोर्ट में जाकर 2 साल और मांगे

अनाधिकृत कॉलोनियों में सामने आए इस पेज पर सफाई देते हुए हरदीप सिंह पुरी ने सोशल मीडिया पर लिखा, ‘DDA ने सभी कॉलोनियों के नक्शे सैटेलाइट के माध्यम से केवल 2 महीने के अंदर पूरे कर दिए. 35000 लोगों ने वेबसाइट पे पंजीकरण भी कर दिया है और बहुतों ने अपने कागजात भी जमा कर दिए. जहां 20,000 रुपये प्रति गज का सर्कल रेट है वहां इन बहनों-भाइयों को केवल 100 रुपये प्रति गज ही भरने पड़ेंगे

विकास मंत्री हरदीप पुरी का दावा है कि आम आदमी पार्टी शब्दों को पकड़कर जाल बिछा रही है, जबकि अगले 8 से 10 दिनों में लोगों को मालिकाना हक देने के लिए रजिस्ट्री भी शुरू हो जाएगी
सिसोदिया के आरोपों को एकदम सही बताते हुए दिल्ली के मुख्यमंत्री और बीजेपी पर हमला बोला. मुख्यमंत्री ने भी बयान दिया, ‘DDA की वेबसाइट पर लिखा है कि केंद्र की इस योजना से ना तो कॉलोनी रेगुलर होंगी और ना ही मकान रेगुलर होंगे. अच्छा हुआ हरदीप सिंह पुरी जी ने सच लोगों के सामने रख दिया.’ केजरीवाल ने आरोप लगाया कि बीजेपी के नेता और प्रवक्ता जनता के सामने सरे आम झूठ बोल रहे हैं.

आम आदमी पार्टी और बीजेपी के बीच अनाधिकृत कॉलोनियों की सियासी जंग के बीच कांग्रेस भी कूदी. कांग्रेस का नेता अजय माकन ने कहा कि मोदी और केजरीवाल दोनों ही सरकार अधिकृत कॉलोनियों के नाम पर जनता से ना सिर्फ झूठ बोल रही हैं, बल्कि दिल्ली की जनता के साथ धोखा कर रहे हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *