बड़ी खबर राजनीति

केंद्र सरकार का नया कानून संप्रदाय नहीं संविधान के खिलाफ है, आजमगढ़ में बोलीं प्रियंका वाड्रा

कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी ने कहा कि जहां-जहां जुल्म होगा वहां-वहां जाऊंगी। सरकार का काम जनता को सुरक्षा देना है जबकि लोगों पर जुल्म ढाया जा रहा है।

आजमगढ़, कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी ने कहा कि जहां-जहां जुल्म होगा, वहां-वहां जाऊंगी। सरकार का काम जनता को सुरक्षा देना है, जबकि लोगों पर जुल्म ढाया जा रहा है। सीएए के विरोध में धरने पर बैठी महिलाएं खुद उठने वालीं थीं, लेकिन उसके बावजूद जानबूझकर पुलिस ने ज्यादती की। केंद्र सरकार का नया कानून संप्रदाय नहीं संविधान के खिलाफ है। बिलरियागंज में हुए जुल्म की मानवाधिकार आयोग में जिम्मेदार अधिकारियों के नाम सहित शिकायत करूंगी, ताकि कोई बचने नहीं पाए।

कांग्रेस महासचिव बिलरियागंज में पांच फरवरी को हुए बवाल के क्रम में कथित तौर पर पीड़ित महिलाओं से मिलने आईं थीं। वह दोपहर में 1.05 बजे पहुंच गईं थी। डेढ़ घंटे तक महिलाओं से मुलाकात के बाद निकलीं तो मीडिया से चलते-चलते रूबरू हुईं। उन्होंने कहा कि बीजेपी के लोग संविधान तोड़ने का काम कर रहे हैं। मौलाना ने हिंसा की बात नहीं की, फिर भी उनके खिलाफ कार्रवाई की गई है।

प्रियंका गांधी से मिलकर निकलीं महिलाएं आश्वस्त नजर आ रहीं थीं
उधर प्रियंका गांधी से मिलकर निकलीं महिलाएं आश्वस्त नजर आ रहीं थीं। उन्होंने कहा कि हमे न्याय का भरोसा मिला है। उन्हें सुनने के लिए लोगों की भारी भीड़ उमड़ी थी। इससे पूर्व कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी बुधवार को दिन में 11 बजे आजमगढ़ जिले में प्रवेश कर गईं। उनका जगह-जगह लोगों ने जबरदस्त स्वागत किया गया।

काले झंडे एवं काले कपड़े दिखाकर विरोध किया गया
कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी गुरुवार सुबह 11 बजे आजमगढ़ में प्रवेश कर गईं थीं। इसके लिए पुलिस प्रशासन ने एक निजी व्यक्ति के खाली पड़े स्थान को चिह्नित किया गए थे। करीब एक बजे महिलाओं से मुलाकात के लिए बनाए गए स्थल पर पहुंचने के लिए भीड़ ने जोर आजमाइ्श की लेकिन पुलिस ने किसी को जाने नहीं दिया। आजमगढ़ से बिलरियागंज रोड पर पटवा सरैया बाजार मे प्रियंका गांधी के बिलरियागंज जाने पर काले झंडे एवं काले कपड़े दिखाकर विरोध किया गया। पुलिस ने तत्‍काल ऐसे लोगो को खदेड़ दिया।

महिलाओं को वहीं पर मुलाकात कराने की व्यवस्था की गई है लेकिन मीडिया की एंट्री पर पाबंदी रही। अपर पुलिस अधीक्षक एनपी सिंह ने बताया कि कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव ही मीडिया से रूबरू होना नहीं चाहती हैं।

कांग्रेस नेता अजय राय भी बाहर ही रह गए

महिलाओं से मुलाकात को बनाए गए स्थल पर पहुंचने के लिए भीड़ ने जोर आजमाइ्श की लेकिन पुलिस ने किसी को जाने नहीं दिया। कांग्रेस नेता अजय राय भी बाहर ही रह गए, जिन्हें बाद में अंदर बुलाया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *