कोरोना काल में शादी को यादगार बनाने के लिए बुलेट पर काला चश्मा लगाकर मंडप में पहुंची दुल्हन

शादी का मंडप सजा था। डीजे पर काला चश्मा सजदा ए.. गाना बज रहा था। इसी दरम्यान बुलेट पर दुल्हन की एंट्री हुई। बुलेट राजा बनकर भाई ने दुल्हन बहन के लिए शानदार एंट्री करवाई। दुल्हन काला चश्मा पहनकर स्टाइल में भाई के साथ बुलेट पर बैठी थी। सिर्फ अपनी बहन की शादी को यादगार बनाने के लिए मंडप पर भाई ने बुलेट से दुल्हन बहन की एंट्री कराई। सात भाइयों में इकलौती बहन की इस शादी के चर्चे बरेली में भी हुए।

सिकलापुर की रहने वाली नंदनी सात भाइयों में इकलौती बहन है। उनकी शादी को लेकर भाइयों में चाव था। तय हुआ था कि दूल्हे तक उनकी बहन भाइयों के हाथ पर पैर रखकर पहुंचेगी। लेकिन कोविड प्रोटोकॉल के चलते यह संभव नहीं हुआ। दुल्हन नंदनी के मुताबिक उनकी भाभी ने ही बुलेट पर एंट्री का सुझाव दिया। जिसें उन्होंने मान लिया। भाई अजय ने यह भी बताया कि पांच भाई बॉडी बिल्डर हैं। एक सरकारी स्कूल में अध्यापक, जबकि एक ड्राइवर हैं।

कोविड काल में डीजे बजाने पर पांबदी है। लेकिन बहन की खुशी के लिए डीजे को हल्की आवाज में बजाने पर सभी राजी हुए। पंडाल में बस कुछ खास ही मेहमान थे। सिकलापुर से एक किमी दूर आलमगिरीगंज से नदंनी की बरात सिकलापुर पहुंची। जब काले कुर्ते में भाई बुलेट राजा बना। बहन को पीछे बैठाकर उसने शादी काे यादगार बना दिया। एंट्री का वीडियो इंटरनेट मीडिया पर वायरल हो रहा है।