Delhi Unlock 2.0: अनलॉक होते ही पुरानी दिल्ली के बाजारों में दिखेगी सख्ती

कोरोना वायरस संक्रमण की दर कम होते ही अब देश की राजधानी दिल्ली में अनलॉक की उम्मीदें तेज हो गई हैं। ऐसे में दिल्ली के सभी जिलों के जिला प्रशासन ने भी अपनी तैयारियां करनी शुरू कर दी हैं। इस कड़ी में मध्य जिला प्रशासन ने पुरानी दिल्ली के बाजारों में भीड़ को नियंत्रण करने के लिए विशेष योजनाएं बनाई हैं। बाजारों में प्रशासन की टीमें लगातार तैनात रहेंगी, जो बिना मास्क वाले और शारीरिक दूरी के नियम का पालन नहीं करने वाले लोगों के चालान काटकर उनपर कार्रवाई करेंगे।

मध्य जिले की जिलाधिकारी आकृति सागर ने बताया कि अनलॉक को लेकर तैयारियां की जा रही है। कॉलोनियों के साथ-साथ पुरानी दिल्ली के बाजारों में कोरोना नियमों को पालन कराना प्रशासन के लिए चुनौती होगा, जिसकी अब पूरी तैयारी की जा रही है। इसके लिए एक बाजार में पांच से अधिक टीमें तैयार की जाएंगी, जिसमें अधिकारियों के साथ-साथ सिविल डिफेंस के कार्यकर्ता मौजूद रहेंगे। इसके अलावा बाजारों में सैनिटाइेशन की व्यवस्था की जाएगी, जो समय-समय पर बाजारों में सैनिटाइज करेंगी। इसके लिए एससीडी के अधिकारियों को निर्देशित किया गया है।

वहीं, ऐसे दुकानदारों और व्यापारियों पर भी कार्रवाई की जाएगी, जो ग्राहकों के बीच शारीरिक दूरी का पालन कराते हुए नहीं दिखेंगे। दुकान के अंदर भी नियमों का पालन होना चाहिए। वहीं, चालान काटने वाली टीमों को भी तैयार किया जा रहा है, जिनके लिए अधिकारी उनको प्रशिक्षण दे रहे हैं, ताकि वह सख्ती के साथ मिलकर काम कर सकें।

बता दें दिल्ली में सत्तासीन आम आदमी पार्टी सरकार ने आगामी 31 मई से लॉकडाउन खत्म करने और अनलॉक प्रक्रिया शुरू करने का ऐलान किया है। इसके तहत सोमवार से निर्माण कार्य और फैक्ट्री खोलने का फैसला लिया है, लेकिन बाजार खुलने समेत सभी गतिविधियों पर रोक जारी रहेगी। संभव है कि 7 जून से दिल्ली में सामान्य गतिविधियां शुूरू हों।