बैड कोलेस्ट्रॉल बन सकता है कई समस्याओं की वजह, कंट्रोल करने के लिए खानपान में करें ये जरूरी बदलाव

कोलेस्ट्रॉल हमारी बॉडी के अंदर मौजूद एक तरह का फैट है जो हमारी कोशिकाओं को एनर्जी पहुंचाने का काम करता है। तो मतलब आप जो भी खा रहे हैं कोलेस्ट्रॉल उसी के जरिए शरीर में पहुंचता है। इसलिए अगर आप बहुत तला-भुना, स्पाइसी भोजन करते हैं तो कोलेस्ट्रॉल धमनियों में जमा होने लगता है जो कई सारी समस्याओं की वजह बन सकता है।

बैड कोलेस्ट्रॉल बढ़ने पर हो सकती हैं ये समस्याएं

वजन तेजी से बढ़ने लगता है।

– तलवों में होने वाला दर्द भी बढ़े हुए कोलेस्ट्रॉल की निशानी है।

– अक्सर सीने में रहने वाला दर्द कोलेस्ट्रॉल बढ़ने की ओर इशारा करता है।

– थोड़ा सा भी काम करने या चलने पर थकान महसूस होना।

कितना होना चाहिए कोलेस्ट्रॉल लेवल

बॉडी में कोलेस्ट्रॉल की मात्रा 200 MG/DL होनी चाहिए। बैड कोलेस्ट्रॉल 100 MG से ज्यादा न हो। साथ ही गुड कोलेस्ट्रॉल की मात्रा 60 MG से ज्यादा नहीं होनी चाहिए।

ऐसे कम कर सकते हैं कोलेस्ट्रॉल

ग्रीन टी

ग्रीन टी न सिर्फ मोटापा कम करने में कारगर है बल्कि इसके सेवन से बैड कोलेस्ट्रॉल को भी कम किया जा सकता है। इसके अलावा एंटी ऑक्सीडेंट्स से भरपूर ग्रीन टी बढ़ती उम्र के असर को भी थामती है।

अलसी के बीज

अलसी के बीज भले ही देखने में छोटे से होते हैं लेकिन ये बड़ी-बड़ी बीमारियों का नाश करने की क्षमता रखते हैं। अलसी के बीजों में फाइबर मौजूद होता है और यही बैड कोलेस्ट्रॉल को कम करने का काम करता है।

स्प्राउट्स

तेजी से कोलेस्ट्रॉल कम करना है वो भी नेचुरली तो स्प्राउट्स का सेवन शुरू करें। हरी मूंग, काला चना, काबुली चना इन सभी का स्प्राउट्स तैयार किया जा सकता है। इसके लिए रातभर इन्हें पानी में भिगो दें और फिर सुबह पानी से अलग करके रख देंगे। जिससे यह अंकुरित हो जाते हैं फिर इन्हें खाएं।

लहसुन

लहसुन के सेवन से दो चीज़ें एक साथ कम की जा सकती हैं। कोलेस्ट्रॉल और मोटापा। तो इसके लिए रोजाना सुबह उठने के बाद कच्चा लहसुन खाना शुरू कर दें।

ऑलिव ऑयल

खाने को स्वादिष्ट बनाने के लिए हम उसमें देसी घी, बटर जैसी चीज़ों से तड़का लगाते हैं जो नो डाउट इसे जायकेदार बना देते हैं लेकिन साथ ही साथ कोलेस्ट्रॉल लेवल भी बढ़ा देते हैं। तो इसके लिए डाइट से इन सभी कुकिंग ऑयल्स को आउट कर ऑलिव ऑयल का इस्तेमाल शुरू करें और कुछ हफ्ते बाद कोलेस्ट्रॉल की जांच करा कर फर्क देखें।