CA January/February Exam 2021: 21 जनवरी से होंगे ऑप्ट-आउट स्कीम में सीए एग्जाम, आईसीएआई ने जारी किये नोटिस

CA January/February Exam 2021: इंस्टीट्यूट ऑफ चार्टर्ड एकाउंटेंट्स ऑफ इंडिया (आईसीएआई) ने वीरवार, 19 नवंबर 2020 को सीए परीक्षाओं की जनवरी और फरवरी सायकिल के शुरू होने की तारीख की घोषणा कर दी है। संस्थान द्वारा जारी सीए एग्जाम डेट 2021 नोटिस के अनुसार, 7 नवंबर को जारी तारीखों के अनुक्रम में जनवरी/फरवरी 2021 में आयोजित की जाने वाली सीए परीक्षाएं 21 जनवरी 2021 से शुरू की जाएंगी। साथ ही, नये वर्ष में आयोजित की जाने वाली सीए परीक्षाओं के लिए एग्जाम सेंटर्स वहीं होंगे जो कि नवंबर/दिसंबर 2020 की परीक्षाओं के लिए निर्धारित किये गये हैं।

ऑप्ट-आउट स्कीम की आखिरी तारीख के बाद जारी होगा परीक्षा कार्यक्रम और प्रवेश पत्र

आईसीएआई ने नोटिस के माध्यम से जानकारी दी कि जनवरी/फरवरी 2021 में आयोजित की जाने वाली सीए परीक्षाओं का विस्तृत कार्यक्रम ऑप्ट-आउट स्कीम की आखिरी तारीख बीत जाने के बाद जारी किया जाएगा। साथ ही साथ, संस्थान द्वारा सीए एग्जाम जनवरी 2021 एडमिट कार्ड भी परीक्षा कार्यक्रम के साथ ही जारी किया जाएगा।वहीं, आईसीएआई ने कल, 19 नवंबर को एक अन्य नोटिस जारी करते हुए देश भर में बनाये गये 1085+ केंद्रों पर आयोजित होने वाली सीए नवंबर-दिसंबर 2020 परीक्षाओं में सम्मिलित होने जा रहे स्टूडेंट्स के लिए ऑप्ट-आउट स्कीम की भी घोषणा की है। संस्थान के नोटिस के अनुसार, जिस किसी भी स्टूडेंट्स में कोविड-19 के लक्षण कल, 21 नवंबर से शुरू होने वाली परीक्षा कार्यक्रम के दौरान लक्षित होते हैं, वे सीए एग्जाम ऑप्ट-आउट स्कीम 2020-21 के माध्यम से जनवरी-फरवरी 2021 में फिर से परीक्षा के लिए आवेदन कर सकते हैं। हालांकि, इन स्टूडेंट्स को सेल्फ-डिक्लेरेशन ऑनलाइन आवेदन के दौरान सबमिट करना होगा।

सीए नवंबर/दिसंबर 2020 परीक्षाओं के लिए एसओपी का पालन जरूरी

आईसीएआई ने कल, 21 नवंबर से शुरू होने जा रही सीए फाउंडेशन या सीए इंटरमीडिएट या सीए फाइनल परीक्षाओं के दौरान स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसीजर्स यानि एसओपी के पालन को लेकर विशेष नोटिस जारी किया है। संस्थान द्वारा 19 नवंबर 2020 को जारी नोटिस के अनुसार जिन स्टूडेंट्स में कोविड-19 के लक्षण हैं वे यदि परीक्षा में शामिल होते हैं तो वे न सिर्फ दूसरे स्टूडेंट्स और परीक्षा आयोजकों की स्वास्थ्य सुरक्षा के लिए जोखिम पैदा करेगें, बल्कि विभिन्न सरकारी प्राधिकरणों द्वारा जारी निर्देशों एवं नियमों का उल्लंघन भी करेंगे। संस्थान ने कहा है कि सभी स्टूडेंट्स को केंद्र सरकार द्वारा जारी एसओपी का पालन करना अनिवार्य है।