सिब्बल ने दिए कांग्रेस में नए घमासान के संकेत, कहा- राहुल ने कहा था कि गांधी परिवार से बाहर का बने पार्टी अध्यक्ष

कांग्रेस में बिहार की हार को लेकर शुरू हुई अंदरूनी सिरफुटव्वल थमती नजर नहीं आ रही। पार्टी की सियासी जमीन कमजोर होने के बावजूद नेतृत्व की संवाद की कमी पर सवाल उठाने वाले वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल ने खुद पर किए जा रहे हमलों पर जवाबी पलटवार किया है। सिब्बल ने अशोक गहलोत और अधीर रंजन चौधरी सरीखे नेताओं पर जवाबी निशाना साधते हुए कहा कि वह गांधी परिवार के खिलाफ नहीं हैं। खुद राहुल ने लोकसभा चुनाव के बाद इस्तीफा देते समय कह दिया था कि वह अध्यक्ष नहीं बनना चाहते और यह भी नहीं चाहते कि गांधी परिवार का कोई सदस्य यह जिम्मेदारी ले।

नए घमासान के संकेत

कपिल सिब्बल का यह ताजा बयान सीधे तौर पर राहुल गांधी की दूसरी पारी के लिए पार्टी में की जा रहीं अंदरूनी तैयारियों को लेकर नए घमासान का साफ संकेत है। सिब्बल ने एक चैनल से बातचीत में सवाल किया, वह पूछना चाहते हैं कि राहुल गांधी के इस्तीफे और उनकी इस बात के करीब डेढ़ साल बाद भी कोई राष्ट्रीय पार्टी इतने लंबे वक्त तक बिना अध्यक्ष के काम कैसे कर सकती है। पार्टी का कार्यकर्ता किसके पास अपनी समस्याओं को लेकर जाएगा। बीते दो लोकसभा चुनावों में हार के बाद भी भविष्य की चुनौतियों से निपटने के लिए कोई बदलाव नहीं हुआ है