दिल्ली परिवहन विभाग की सभी सेवाएं आज से आनलाइन, अरविंद केजरीवाल करेंगे शुरुआत

 राजधानी दिल्ली में परिवहन विभाग की सभी सेवाएं बुधवार से पूरी तरह आनलाइन (फेसलेस सिस्टम) हो जाएंगी। इसके साथ ही चार ट्रांसपार्ट अथारिटी (परिवहन कार्यालय) को बंद कर दिया जाएगा। दिल्ली सरकार के निर्देश पर परिवहन विभाग ने आदेश जारी कर दिया है। दरअसल, दिल्ली सरकार फेसलेस स्कीम शुरू करने जा रही है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल बुधवार को इसकी औपचारिक शुरुआत करेंगे। स्थायी ड्राइविंग लाइसेंस के लिए टेस्ट और वाहन फिटनेस से संबंधित सेवाओं के अलावा बाकी सभी सेवाएं फेसलेस सिस्टम के दायरे में आ जाएंगी। किसी भी व्यक्ति को लाइसेंस बनवाने की पूरी प्रक्रिया में केवल स्थायी लाइसेंस बनवाने के लिए परिवहन कार्यालय जाना पड़ेगा। दावा है कि दिल्ली देश का पहला राज्य होगा, जहां परिवहन विभाग की सेवाएं पूरी तरह आनलाइन होंगी।

जो चार ट्रांसपोर्ट अथारिटी बंद की जाएंगी, उनमें आइपी एस्टेट, सराय काले खां, जनकपुरी और वसंत विहार शामिल हैं। इन कार्यालयों में तैनात कर्मचारियों की दूसरी जगह तैनाती होगी। आइपी एस्टेट और सराय काले खां को साउथ जोन के साथ अटैच किया गया है। जनकपुरी को राजा गार्डन और वसंत विहार को द्वारका ट्रांसपोर्ट अथारिटी के साथ अटैच किया गया है।

चेष्टा को मिला पहला ई-लर्निंग लाइसेंस

आनलाइन सेवाओं की भले ही बुधवार को मुख्यमंत्री औपचारिक रूप से शुरुआत करेंगे, लेकिन लोगों के लिए ये सेवाएं पहले से चालू की जा चुकी हैं। इसके तहत चेष्टा मेहता ने पहला ई-लर्निग लाइसेंस प्राप्त किया। चेष्टा ने ट्वीट कर कहा, ‘दो दिन पहले मैंने लर्निग लाइसेंस टेस्ट पास किया। सचमुच मेरे लि¨वग रूम में बैठे-बैठे पूरी प्रक्रिया में केवल 10 मिनट लगे और परिवहन कार्यालय में प्रतीक्षा व लंबी कतारों से राहत मिली। खासकर महामारी के दौरान। धन्यवाद सीएम अर¨वद केजरीवाल और परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत। यह सब इतना आसान बनाने के लिए।’ इस पर परिवहन मंत्री गहलोत ने रीट्वीट कर कहा, ‘बधाई चेष्टा! वास्तव में आप दिल्ली की और देश की पहली ई-लर्नर लाइसेंस धारक हैं। आपको आपके डीएल परीक्षण के लिए शुभकामनाएं। ’