इंग्लैंड के पूर्व कप्तान का खुलासा, अफगानिस्तान के हालातों की वजह से चिंतित हैं राशिद खान

इंग्लैंड के पूर्व कप्तान केविन पीटरसन ने खुलासा किया है कि लेग स्पिनर राशिद खान अफगानिस्तान के हालात से चिंतित हैं और वह अपने परिवार को देश से बाहर नहीं निकाल पा रहे हैं। अफगानिस्तान पर तालिबान का कब्जा हो गया है। वहीं, ये लेग स्पिनर वर्तमान में यूनाइटेड किंगडम में है, जहां वह द हंड्रेड के उद्घाटन संस्करण में भाग ले रहा है। राशिद खान द हंड्रेड टूर्नामेंट में ट्रेंट रॉकेट्स का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं। ऑलराउंडर मुहम्मद नबी भी इस लीग का हिस्सा हैं।

केविन पीटरसन ने स्काई स्पोर्ट्स पर बताया, “घर में बहुत सारी चीजें हो रही हैं। हमने यहां सीमा पर इस बारे में बात करते हुए एक लंबी बातचीत की और वह चिंतित है। वह अपने परिवार को अफगानिस्तान से बाहर नहीं निकाल पा रहे हैं और उसके लिए बहुत सी चीजें हो रही हैं। उसके लिए इस तरह का प्रदर्शन करना, उस दबाव में जो वह वर्तमान में है। उसके लिए उन चीजों को भूलना आसान नहीं है। अपनी कहानी बयां करने में सक्षम होने के लिए और उस गति को जारी रखने के लिए जो उसके पास है – मुझे लगता है कि शायद इस हंड्रेड की अब तक की सबसे बड़ी कहानी है, जो दिल को छू रही है।”

अफगानिस्तान में जारी उथल-पुथल के कारण काबुल के हामिद करजई इंटरनेशनल (HKI) हवाई अड्डे पर दुनिया भर से उड़ान संचालन प्रभावित हैं। तालिबान आतंकवादी अफगानिस्तान की राजधानी काबुल पर कब्जा कर रहे हैं और देश के राष्ट्रपति अशरफ गनी देश छोड़कर चले गए हैं और इस बीच तालिबान ने राष्ट्रपति भवन पर कब्जा कर लिया है। राशिद खान ट्विटर के जरिए दुनियाभर के नेताओं से अपील कर चुके हैं कि अफगानिस्तान को इस मुश्किल से निकालने के लिए आगे आएं। वह शांति चाहते हैं। मुहम्मद नबी ने भी इस तरह की अपील की है।