Pooja Bhatt पर लगा ‘एनसीबी के मुखबिर’ की जान खतरे में डालने का आरोप, मामला बढ़ता देख एक्ट्रेस ने दी सफाई

बॉलीवुड एक्ट्रेस और निर्देशक पूजा भट्ट अपनी फिल्मों से ज्यादा अपने बयानों को लेकर चर्चा में रहती हैं। पूजा अक्सर सोशल मीडिया के जरिए किसी न किसी मुद्दे पर ऐसा कुछ लिख देती हैं जिसे लेकर चर्चा शुरू हो जाती है। अब हाल ही में पूजा भट्ट, आर्यन ख़ान के केस को लेकर चर्चा में हैं। पूजा वो पहली अभिनेत्रि हैं जिन्होंने आर्यन के सपोर्ट में पोस्ट शेयर किया था और शाह रुख को अपना समर्थन दिया है। वहीं अब एक्ट्रेस पर नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) के मुखबिर की जान खतरे में डालने का आरोप लगा है।

 

दरअसल, आर्यन के गिरफ्तार होने के बाद उनके साथ सेल्फी लेते हुए एक शख्स की फोटो काफी वायरल हुई थी कहा जा रहा था कि ये एनसीबी की टीम का ही कोई मेंबर है। लेकिन बाद में एनसीबी ने ये साफ कर दिया उनका इस शख्स से कोई लेनादेना नहीं। इसके बाद इंटरनेट पर ये चर्चा शुरू हो गई कि ये यही वो मुखबिर है जिसने एनसीबी को क्रूज़ पर रेव पार्टी की जानकारी दी थी। इसक फोटो के वायरल होने के बाद पूजा ने एक ट्वीट किया था जिसमें उन्होंने प्राइवेट डिटेक्टिव का जिक्र किया था।

पूजा के ट्वीट पर पत्रकार ने जताई आपत्ति

पूजा के इस ट्वीट को रीट्वीट करते हुए पत्रकार ने इस पर आपत्ति जताई थी और शख्स की जान खतरे में डालने का आरोप लगाय था। पत्रकार ने अपने ट्वीट में लिखा था, ‘एक मुखबिर पुलिस/ ईडी/ सीबीआई/एनीसीबी किसी के भी पास हो सकता है, मुखबिर कोई भी हो सकता है। जानकारी देना और रैकेट का भंडाफोड़ करना कोई क्राइम नहीं है। आप उसका नाम लेकर उसकी जान खतरे में डाल रही हैं। ड्रग पेडलर अब मुखबिर पर हमला कर सकते हैं’।

पूजा ने दी सफाई 

पूजा ने अब इस आरोप पर सफाई दी है और साफ कहा है कि उन्होंने किसी की पहचान उजागर नहीं की। एक्ट्रेस ने अपने ट्वीट में लिखा, ‘मैंने उसका नाम नहीं लिया है, अगर आप अपनी आखों से सच में देखेंगे और मेरे ट्वीट को दोबारा पढ़ लीजिए। और अगली बार उस व्यक्ति को सेल्फी लेने और ग्लोरियस सेल्फी को लीक न करने की सलाह दें क्योंकि वो वायरल हो जाती है’।