IPL 2021 Final: CSK और KKR का हर सीजन में प्रदर्शन, जानिए किस साल किस स्थान पर रही दोनों टीमें

आइपीएल 2021 के फाइनल में दो टीमों ने जगह बना ली है और यहां तक पहुंचने वाली पहली टीम चेन्नई सुपर किंग्स रही। वहीं कोलकाता नाइट राइडर्स ने दूसरे क्वालीफायर में दिल्ली कैपिटल्स को हराकर फाइनल में जगह बनाई। अब खिताबी जीत के लिए एम एस धौनी की सेना को इयोन मोर्गन की टीम के साथ भिड़ना है। सीएसके ने जहां रिकार्ड 9वीं बार आइपीएल फाइनल में जगह बनाई है तो वहीं केकेआर की टीम तीसरी बार इस मुकाम तक पहुंची है। धौनी की कप्तानी में इस सीजन से पहले सीएसके 8 बार फाइनल तक पहुंची थी, लेकिन उसे खिताबी जीत तीन बार ही मिली जबकि पांच बार टीम को उप-विजेता रहकर संतोष करना पड़ा।

वहीं केकेआर की बात करें तो इस सीजन से पहले ये टीम दो बार फाइनल तक पहुंची और दोनों ही बार खिताब जीतने में सफल रही। एक तरफ जहां सीएसके धौनी की कप्तानी में तीन बार खिताब जीत चुकी है तो वहीं केकेआर गौतम गंभीर की कप्तानी में दो बार ये कमाल कर चुकी है। इस बार सीएसके चौथी बार खिताबी जीत के बेहद करीब है और टीम के कप्तान धौनी ही हैं जबकि केकेआर की कप्तानी इस बार मोर्गन कर रहे हैं। अगर मोर्गन की कप्तानी में केकेआर खिताब जीतने में सफल हो पाती है तो ये पहला मौका होगा जब ये टीम किसी विदेशी खिलाड़ी की कप्तानी में खिताब जीतने का कमाल करेगी।

इस बार सीएसके ने जिस तरह से दिल्ली को पहले क्वालीफायर में हराया था और रिदम हासिल कर ली थी उसे देखकर तो यही लग रहा है कि केकेआर के लिए राह आसान नहीं होगी। ऐसा इसलिए है कि दूसरे क्वालीफायर में दिल्ली के खिलाफ इस टीम को आसान जीत नहीं मिली थी। दिल्ली ने केकेआर के जीत के लिए 135 का लक्ष्य दिया था, लेकिन इस टीम ने 123 रन से लेकर 130 रन के बीच में 6 विकेट गंवा दिए थे और इसमें से चार बल्लेबाज शून्य पर आउट हुए थे। यानी दिल्ली के गेंदबाजों ने वापसी कर ली थी, लेकिन आखिरी में राहुल त्रिपाठी ने छक्का लगाकर टीम को जीत दिला दी। आइए अब एक नजर डालते हैं आइपीएल के पहले सीजन से लेकर आखिरी सीजन तक दोनों टीमों ने किस पोजीशन पर रहते हुए अपने सफर का समापन किया था।

सीएसके के प्रदर्शन                                  केकेआर का प्रदर्शन                              

 2008- दूसरा                                                    2008- छठा

2009-  चौथा                                                      2009- आठवां

2010-  विजेता                                                    2010- छठा

2011-  विजेता                                                     2011- चौथा

2012- उप- विजेता                                               2012- विजेता

2013- उप-विजेता                                                 2013- सातवां

2914- तीसरा                                                        2014- पहला

2015- उप-विजेता                                                  2015- पांचवां

2016- सस्पेंड                                                        2016- चौथा

2017- सस्पेंड                                                        2017- तीसरा

2018- विजेता                                                        2018- तीसरा

2019- उप-विजेता                                                   2019- पांचवां

2020- सातवां                                                         2020- पांचवां