गुरुग्राम व फरीदाबाद सहित हरियाणा के निजी शैक्षणिक संस्थानों को बड़ी राहत, प्रापर्टी टैक्स में मिलेगी एक साल की छूट

हरियाणा सरकार ने राज्‍य के निजी शैक्षणिक संस्‍थानों को बड़ी राहत दी है। प्रदेश सरकार ने निजी शैक्षणिक संस्थानों को संपत्ति कर (प्रापर्टी टैक्स) में एक वर्ष की छूट देने की घोषणा की है। इससे निजी शैक्षणिक संस्थानों को 23.50 करोड़ रुपये का लाभ होगा। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने योजना को मंजूरी दे दी है।

निजी शैक्षणिक संस्थानों का 23.50 करोड़ रुपये का प्रापर्टी टैक्स होगा माफ

हरियाणा के शहरी निकाय मंत्री अनिल विज ने सोमवार को बताया कि सरकारी शैक्षणिक भवनोें को भी पहले ही संपत्ति कर में एक वर्ष की छूट दी गई है। इस पर करीब 10.35 करोड़ रुपये का वित्तीय खर्च आएगा। उन्होंने बताया कि फेडरेशन आफ प्राइवेट स्कूल वेलफेयर एसोसिएशन की मांग पर यह निर्णय लिया गया है।

प्रदेश के 8986 शैक्षणिक संस्थानों को मिली राहत

अनिल विज ने बताया  कि इससे प्रदेश के 8986 सरकारी और निजी शिक्षण संस्थानों को संपत्ति कर में छूट से 33.85 करोड़ रुपये का लाभ होगा। इसमें फरीदाबाद के 1596, गुरुग्राम के 1103, पानीपत 418, हिसार 379, रोहतक 365, सोनीपत 332, यमुनानगर 308, करनाल 274, अंबाला 194, पंचकूला के 167 और पलवल के 240 शिक्षण संस्थान शामिल हैं। बहादुरगढ़ के 181, जींद के 179, सिरसा 167, अंबाला कैंट 157, भिवानी 150, थानेसर 149, रेवाड़ी 136, पिंजौर 124, कैथल 106, नारनौल 105, हांसी 84, गोहाना 80, झज्जर 79, फतेहाबाद 74, सोहना 69, दादरी 65, होडल 60, टोहाना के 55 स्कूलों को टैक्स माफी का लाभ मिलेगा।

विज ने बताया कि मंडी डबवाली में 36, नरवाना में 36, नूंह 31, शाहबाद 52, गन्नौर 49, महेंद्रगढ़ 46, बरवाला 42, पिहोवा 42, चीका 41, घरौंडा 41, उकलाना 39, नारायणगढ 37, भूना 35, घारूहेडा 35, कनीना 35, लाडवा 35, सफीदों 35, ऐलनाबाद 34, जुलाना 33, रतिया 33, तरावडी 32, समालखा 31, फरूखनगर 30, पटौदी में 29 और तावडू में 28 निजी संस्थानों का टैक्स माफ किया गया है।

उन्‍होंने बताया कि लोहारू के 27, महम के 27, नीलोखेडी 27, सांपला 27, अटेली 26, फिरोजपुर झिरका 26, कलानौर 26, नांगल चौधरी 26, रानियां 26, नारनौंद 25, रादौर 25, पुन्हाना 24, बराडा 23, बावल 21, हेलीमंडी 21, सिवानी 21, बवानीखेडा 20, हथीन 20, निसिंग 20, असंध 19, इस्माइलाबाद 18, उचाना 18, इंद्री 16, कलायत 15, खरखौदा 15, सढौरा 15, बांस 13, जाखल मंडी 13, कुंडली 13, सिसाय 13, बेरी 12, पुंडरी 12, राजौंद 12 और कालांवाली के 11 शैक्षणिक संस्थानों को इस निर्णय से एक वर्ष के संपति कर की छूट से लाभ मिलेगा।

निसा ने किया स्वागत

नेशनल इंडिपेंडेंट स्कूल्स एलायंस (निसा) के अध्यक्ष डा. कुलभूषण शर्मा ने स्कूलों का संपत्ति कर माफ करने की मांग मानने के लिए शहरी निकाय मंत्री अनिल विज का आभार जताया है। उन्होंने कहा कि सरकार के इस फैसले से काेरोना की मार से जूझ रहे निजी स्कूलों को राहत मिलेगी।