Cold Nose Treatment: आखिर क्यों होती है सर्दी में नाक ठंडी, जानिए कारण और बचाव के उपाय

सर्दी आने का अहसास सबसे पहले नाक को ही होता है। सर्दी का मौसम शुरू होते ही कुछ लोगों की नाक ठंडी होने लगती है, खासकर तब जब घर से बाहर निकलना होता है। घर से बाहर निकलते ही ऐसा लगता है कि सारी सर्दी नाक में ही जा रही है। हालांकि कुछ लोगों को डस्ट एलर्जी की वजह से भी सर्दी के मौसम में नाक की परेशानी हो सकती है, लेकिन सर्दी में नाक का ठंड होना एक अलग परेशानी है। कुछ लोग कितना भी कपड़ा पहन लें तब भी उनकी नाक ठंडी ही रहती है। ऐसे व्यक्तियों की नाक ज्यादा ठंड होने पर सुन्न भी पड़ जाती है।

नाक ठंडी होने की परेशानी सबसे ज्यादा उन लोगों को है जिन्हें थॉयरायड, निमोनिया, डायबिटीज आदि की समस्या है। आखिर वह कौन सी वजह है जिसके कारण कुछ व्यक्तियों की नाक सर्दी में ठंडी पड़ जाती है, आइए इसके बारे में विस्तार से जानते हैं।

सर्दी के मौसम में शरीर भीतर के अंगों के तापमान को बरकरार रखने के लिए कई चीजों में बदलाव करता है। अगर शरीर के सभी अंगों तक ब्लड सर्कुलेशन लगातार बना रहे तो सर्दी का सामान्य अहसास होता है लेकिन कुछ व्यक्तियों को ज्यादा सर्दी लगती है, इसका कारण है शरीर अपना तापमान हमेशा नियत रखने की कोशिश करता है। जब बाहर की सर्दी ज्यादा हो जाती है तो शरीर का पहला काम होता है शरीर के महत्वपूर्ण अंदरुनी अंगों को सर्दी के प्रकोप से बचाना। ऐसे में महत्वपूर्ण अंगों में ब्लड सर्कुलेशन ज्यादा होने लगता है। दूसरी ओर शरीर के बाहरी अंगों जैसे कि हाथ, पैर, नाक आदि में ब्लड सर्कुलेशन कम होने लगता है। यही कारण है कि सर्दी में कुछ व्यक्तियों की नाक बहुत ज्यादा ठंडी हो जाती है क्योंकि वहां तक ब्लड सर्कुलेशन घटने लगता है।

तो नाक गर्म कैसे रखें गर्म:

  • सबसे पहले बाहर निकलें तो अच्छी तरह से स्वेटर, मफलर आदि गर्म कपड़े पहन लें।
  • सर्दी में अक्सर नाक, हाथ, पैर की मालिश करते रहे, इससे ब्लड सर्कुलेशन बना रहेगा।
  • बाहर निकलने पर नाक को हाथ से मसाज की तरह रगड़ते रहे।
  • कोशिश करें कि हर दिन नाक में भाप लें, इससे ब्लड सर्कुलेशन बरकरार रहेगा।
  • दिन में एक बार गर्म सूप जरूर पीएं।
  • चाय और कॉफी का सेवन करें।
  • गुनगुने पानी से चेहरे को साफ करें।
  • अगर इन उपायों से भी आपकी नाक गर्म नहीं रही, तो आप डॉक्टर से संपर्क करें।