काशी विश्‍वनाथ कारिडोर : 91 संतों की मौजूदगी में पीएम मोदी करेंगे श्रीकाशी विश्वनाथ धाम का लोकार्पण

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी श्रीकाशी विश्वनाथ धाम का लोकार्पण 91 संतों की मौजूदगी करेंगे। जिला प्रशासन की ओर से 164 संतों को आमंत्रित करने की सूची तैयार की गई थी। जिसमें 91 संतों ने आमंत्रण पत्र स्वीकार किया है। वहीं 22 संतों ने आने में असमर्थता जताई है। 28 संतों ने फोन नहीं उठाया है। 20 संतों का नंबर स्वीच आफ मिला। तीन संतों का नंबर उपलब्ध नहीं हो सका है। लोकार्पण के साक्षी बनने वालों में प्रमुख संतों में श्रीश्री रविशंकर, तिष्पीगठाधीश्वर स्वामी वासुदेवानंद सरस्वती प्रयागराज से, विजयेंद्र सरस्वती महाराज कांची से, मणिरामदास महाराज अयोध्या से, स्वामी विवेकानंद महाराज मेरठ, आचार्य अवधेशानंद महाराज हरियाणा, स्वामी रामभद्राचार्य महाराज चित्रकूट, स्वामी वासुदेवाचार्य अयोध्या, स्वामी वियोगानंद महाराज गुजरात, स्वामी रामेश्वरदास ऋषिकेश सहित अन्य संत मौजूद रहेंगे।

श्रीकाशी विश्वनाथ धाम के भव्य लोकार्पण के बाद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी मंदिर प्रागंण के अन्नक्षेत्र (भोग शाला) में धाम का निर्माण करने वाले श्रमिकों के साथ बाबा के अन्नक्षेत्र का प्रसाद ग्रहण करेंगे। श्रीकाशी विश्वनाथ मंदिर प्रबंधन से मिली जानकारी के अनुसार प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के लिए साधारण भोजन पूड़ी, आलू-बैगन-साग-टमाटर, मटर-पनीर, गुलाब जामुन, गाजर का हलवा, पापड़, सलाद तैयार कराया जा रहा है। धाम के लोकार्पण के बाद आयोजन के साक्षी बने संत समाज भी बाबा के अन्नक्षेत्र का प्रसाद ग्रहण करेंगे।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी अपने संसदीय क्षेत्र काशी में सोमवार को दो दिन के प्रवास पर पहुंच रहे हैं। इस दौरान वह विभिन्न राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ गंगा आरती में शामिल होंगे। उनके साथ वह नौका विहार भी करेंगे। पर्यटन विभाग की ओर से तीन घाटों (मेहता, गणेश और गुलेरिया घाट) पर भगवान शिव, गंगा और काशी पर आधारित लेजर लाइट शो का आयोजन किया गया है। इसके लिए तकनीकी विशेषज्ञों की टीम रविवार को दिनभर तैयारियों में जुटी रहीं। पीएम जब नौका विहार करेंगे तो उस दौरान अस्सी घाट के पार रेती पर आतिशबाजी भी की जाएगी। पर्यटन विभाग के संयुक्त निदेशक अविनाशचंद्र मिश्र ने बताया कि यह लेजर लाइट शो लगभग दस मिनट का रहेगा।