दिल्ली के आइपी डिपो से आज पहली इलेक्ट्रिक बस की शुरुआत, केजरीवाल हरी झंडी दिखाकर करेंगे रवाना

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल सोमवार को दिल्ली परिवहन निगम (डीटीसी) के आइपी डिपो से राजाधानी की पहली इलेक्ट्रिक बस की शुरुआत करेंगे। केजरीवाल इस प्रोटोटाइप बस को हरी झंडी दिखाकर रवाना करेंगे। यह पहली इलेक्ट्रिक बस 27 किलोमीटर लंबे रूट पर चलेगी जो फाइनल कर दिया गया है। यह रूट लुटियंस जोन सहित दिल्ली के प्रमुख हिस्सों को कवर करेगा।

हालांकि यह बस अभी कुछ दिन ट्रायल के रूप में चलेगी। इसके बाद फरवरी के दूसरे सप्ताह तक दिल्ली में 50 और इलेक्ट्रिक बसें आ जाएंगी। इसके बाद दिल्ली सरकार द्वारा अप्रैल-मई के महीने तक दिल्ली की बसों के बेड़े में 300 इलेक्ट्रिक नई बसों को जोड़ने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है और इसे पूरा करने की दिल्ली सरकार की पूरी कोशिश भी रहेगी।

दिल्ली की पहली इलेक्ट्रिक बस के संचालन के लिए एक अपेक्षाकृत छोटा मार्ग चुना गया है, जो बस को एम्स जैसे महत्वपूर्ण स्थानों को इंडिया गेट, दिल्ली उच्च न्यायालय, आइटीओ आदि से जोड़ने के लिए एक दिन में 8 से 10 चक्कर लगाएगी। यह पहली बस है और 299 और आने वाली हैं, फरवरी के पहले सप्ताह तक 50 और बसों का लक्ष्य रखा गया है।

बस का पंजीकरण पूरा हो चुका है और इसे जल्द ही दिल्ली की सड़कों पर देखा जाएगा। डीटीसी द्वारा लगाई जा रही 300 इलेक्ट्रिक बसों में बसें और ड्राइवर निजी संस्थाओं द्वारा उपलब्ध कराए जाएंगे, जबकि निगम इन्हें अपने मार्गों पर संचालित करेगा और अपने कंडक्टरों को तैनात करेगा।

अब जो इलेक्ट्रिक बसें आने लगेंगी, उन्हें रोहिणी, सुभाष प्लेस, मायापुरी, राजघाट और मुंडेला कलां के डिपो में खड़ा किया जाएगा। रोहिणी में दो बस डिपो और मुंडेला कलां में एक बस डिपो तैयार है और बसों को चार्ज करने के लिए ट्रांसफार्मर के माध्यम से बिजली कनेक्टिविटी प्रदान की गई है।