Delhi Budget 2022-23: 4500 लोगों की तरह आप भी दे सकते हैं दिल्ली सरकार को बजट के लिए सुझाव

दिल्ली का बजट कैसा हो, इस मुद्दे पर अपनी राय देने के लिए दिल्ली सरकार को अभी तक 4500 से अधिक सुझाव प्राप्त हुए हैं।लोग सरकार को 15 फरवरी तक अपने सुझाव भेज सकते हैं।वर्तमान बजट के लिए पिछले साल देशभक्ति बजट बनाने के बाद अब अगले साल यानी 2022-23 के बजट के लिए सरकार ने इस बार भी नया प्रयोग लागू किया है, जिसके तहत इस बार दिल्ली का बजट जनता की राय पर बनेगा।दिल्ली का वार्षिक बजट तैयार करने के लिए दिल्ली सरकार ने दिल्लीवालों से सलाह और सुझाव मांगे हैं।कोई भी दिल्ली का निवासी दिल्ली सरकार तक अपनी राय पहुंचा सकता है। लोगों से मिले सुझाव के आधार पर दिल्ली का बजट तैयार किया जाएगा। लोग अपने सुझाव वेबसाइट पर उपलब्ध लिंक के माध्यम से वित्त विभाग को भेज सकते हैं।

दिल्ली सरकार को अब तक समाज के सभी वर्गों से प्रतिक्रियाएं प्राप्त हो चुकी हैं जो शिक्षा, स्वास्थ्य और आर्थिक विकास के क्षेत्रों से संबंधित हैं।दिल्ली सरकार के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि सुझावों का उद्देश्य निवासियों के सामने आने वाली जमीनी समस्याओं को दूर करना है। सुझाव में शहर के एक जागरूक व्यक्कि्त ने मोहल्ला क्लीनिक की तर्ज पर मोहल्ला लाइब्रेरी खोलने की मांग की है। उनका तर्क है कि ऐसी प्रणाली उन लोगों की बहुत मदद कर सकती है जो घनी आबादी वाले क्षेत्रों में रहते हैं और उनके पास अध्ययन करने के लिए कोई ऐसा स्थान नहीं है। इसी तरह एक अन्य निवासी ने इलेक्टि्रक वाहनों के लिए सस्ती पार्किंग की मांग की है। इसके अलावा अन्य नवीन प्रतिक्रियाओं में छोटे पैमाने के सामुदायिक सौर ऊर्जा संयंत्रों स्थापित करने के साथ साथ स्थानीय सीवरेज उपचार संयंत्रों के पानी को पार्कों की सिंचाई के लिए उपयोग करने पर सुझाव दिए गए हैं।

वहीं मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्लीवालों से फिर पूछा है कि अगले साल आपके टैक्स के पैसों से सरकार कौन-कौन सी योजनाएं लेकर आए। इसके अलावा पुरानी योजना में क्या सुधार किया जाए। सीएम ने कहा कि हमने वित्तवर्ष 2022-23 के लिए बजट तैयार करने की प्रक्रिया शुरू कर दी इसीलिए हम आपके विचार और सुझाव जानना चाहते हैं ताकि उन्हें अगले वर्ष दिल्ली के बजट में शामिल किया जा सके।