Ind vs SL: धर्मशाला में खेला जाएगा दूसरा टी20 मैच, ये हैं दोनों टीमों के संभावित प्लेइंग इलेवन

भारत और श्रीलंका के बीच दूसरा टी20 मैच धर्मशाला में खेला जाएगा। इस मैच में भारत की नजर जीत पर होगी ताकि वो सीरीज पर 2-0 से अजय बढ़त ले सके। पहले टी20 मैच में भारत ने श्रीलंका को आसानी से 62 रनों से हरा दिया था। पहले मैच में भारतीय टीम की तरफ से कई पाजिटिव चीजें देखने को मिली।

युवा विकेटकीपर बल्लेबाज ईशान किशन शानदार लय में नजर आए। किशन ने श्रीलंका के खिलाफ 56 गेंदों में शानदार 89 रनों की पारी खेली थी। ईशान की ये पारी अंतर्राष्ट्रीय टी20 में किसी भी भारतीय विकेटकीपर द्वारा खेली गई सर्वश्रेष्ठ पारी थी। इससे पहले रिषभ पंत का नाम इस सूची में शुमार था।

तीन नंबर पर बल्लेबाजी की बात करें तो कम से कम पहले मैच में श्रेयर अय्यर ने तो विराट की कमी महसूस होने नहीं दी। अय्यर ने शुरुआत जरूर धीमा किया था लेकिन बाद में उन्होंने फिनिश अच्छा किया और 28 गेंदों पर नाबाद 57 रन बनाए।

रितुराज के रूप में भारत के पास ईशान के अलावा एक और ओपनिंग विकल्प था जो चोट के कारण बाहर हो गए हैं। हालांकि उनकी जगह मयंक अग्रवाल को शामिल कर लिया गया है लेकिन लगता नहीं है कि उन्हें अंतिम 11 में जगह दी जाएगी।

इस स्थिति में अब लगता है कि बाकी बचे दो मैचों में भी रोहित शर्मा के साथ ईशान किशन ओपनिंग करेंगे। धर्मशाला पिच की बात करें तो ये बल्लेबाजों के अनुकूल होगी लेकिन ओस के प्रभाव को देखते हुए टास जीतने वाली टीम पहले गेंदबाजी करना पसंद करेगी ताकि बाद में उनके गेंदबाजों को परिस्थियों से जूझना न पड़े।

दूसरी ओर श्रीलंका टीम की बात करें तो महेश तीक्षणा का बाहर होना निश्चितरुप से श्रीलंका के लिए एक बड़ा झटका है। दोनों टीमों के संभावित प्लेइंग इलेवन की बात करें तो भारतीय टीम में किसी बदलाव की उम्मीद कम ही है। वहीं पहले मैच में गेंदबाजी को देखते हुए श्रीलंका अपनी टीम में जरूर बदलाव करना चाहेगी।

भारतीय टीम संभावित प्लेइंग इलेवन– रोहित शर्मा (कप्तान), ईशान किशन (विकेटकीपर), श्रेयस अय्यर, संजू सैमसन, दीपक हूडा, वेंकटेश अय्यर, रविंद्र जडेजा, युजवेंद्र चहल, हर्षल पटेल, भुवनेश्वर कुमार और जसप्रीत बुमराह.

श्रीलंका संभावित प्लेइंग इलेवन-पथुम निसांका, दनुष्का गुणथिलका, कामिल मिशारा (विकेटकीपर), दिनेश चंदीमल, चरित असालंका, दासुन शनाका (कप्तान), चमिका करुणारत्ने, जेफरी वेंडरसे, प्रवीण जयविक्रमा, दुष्मंथा चमीरा और लाहिरु कुमारा.