ठगों से बचाने को रेलवे कर रहा सचेत, नौकरी के लिए आवेदन करने वाले पढ़ें यह खबर

रेलवे ने पिछले दिनों एक लाख से अधिक पदों पर नौकरियां निकाली हैं। इन नौकरियों के लिए लाखों लोगों ने आवेदन किया है। ऐसे में नौकरी के नाम पर इन लोगों के साथ कोई धाेखाधड़ी न हो, इसके लिए भी रेलवे उन्हें सचेत कर रहा है। रेलवे द्वारा इंटरनेट मीडिया और समाचार-पत्रों में विज्ञापन देकर किसी को भी नौकरी के नाम पर रुपये न देने को जागरूक किया जा रहा है।

रेलवे में नौकरी लगवाने के नाम पर कोई रुपये मांगे या कोई ऊपर तक पहुंच होने की बात कहे तो सावधान हो जाएं। ऐसे लोग मोटी रकम ऐंठ कर फर्जी नियुक्ति पत्र देकर चंपत हो जाएंगे। ऐसे में इन लोगों से बचें। आगरा रेल मंडल के पीआरओ एसके श्रीवास्तव का कहना है कि रेलवे में नियुक्ति प्रक्रिया एक दम पारदर्शी होती है। प्रक्रिया पूरी तरह कंप्यूटरीकृत है। योग्यता के आधार पर ही उम्मीदवारों का चयन होगा। ऐसे में कोई नौकरी लगवाने के नाम पर रुपये मांगता है तो ऐसे लोगों के झांसे में न आएं। यदि कोई नौकरी में मदद के नाम पर पैसे मांगता है तो उसकी शिकायत सीधे स्थानीय पुलिस थाने या हेल्पलाइन नंबर 182 पर दर्ज कराएं।

फर्जी वेबसाइटों से भी बचें

पीआरओ का कहना है कि रेलवे के नाम पर लोगों को ठगने के लिए फर्जी वेबसाइट का भी इस्तेमाल किया जाता है। धोखेबाज रेलवे से मिलती-जुलती वेबसाइट बना लेते हैं। वेबसाइट के नाम की स्पेलिंग में एक-दो अक्षर बदल देते हैं, जो आसानी से पकड़ में नहीं आता। ऐसे में अभ्यर्थी भ्रमित हो जाते हैं। अभ्यर्थी पूरी स्पेलिंग चेक कर, देखभाल कर ही वेबसाइट का चयन करें।