Ind vs SL:सुनील गावस्कर की इच्छा विराट कोहली लगाएं अपने 100वें टेस्ट में सेंचुरी और बनें ऐसा करने वाले भारत के पहले बल्लेबाज

श्रीलंका के खिलाफ टी20 सीरीज जीतने के बाद अब टीम की नजर दो मैचों की टेस्ट सीरीज पर है जिसकी शुरुआत 6 मार्च को मोहाली में होने जा रही है। ये टेस्ट पूर्व कप्तान विराट कोहली के करियर के लिए बेहद खास होने वाला है क्योंकि ये उनके करियर का 100वां टेस्ट मैच होगा। हालांकि कोहली को ये टेस्ट अपने फैंस की गैर मौजूदगी में ही खेलना होगा क्योंकि इस मैच में दर्शकों की एंट्री नहीं हो सकेगी।

इस मैच में कोहली के पास इतिहास रचने का मौका होगा। कोहली के पास इस मैच में सेंचुरी बनाने का मौका होगा। जहां तक 100 टेस्ट मैच खेलने की बात है तो कोहली भारत के 12वें बल्लेबाज बन जाएंगे जिन्होंने 100 या इससे अधिक मैच खेले हों। इस सूची में सचिन तेंदुलकर और सुनिल गावस्कर जैसे नाम भी शामिल हैं।

इस बड़े मैच से पहले महान बल्लेबाज सुनील गावस्कर ने स्टार स्पोर्ट्स से बातचीत करते हुए कहा है कि कोहली वर्तमान समय का बेहतरीन टेस्ट खिलाड़ी है। इस मौके पर गावस्कर ने कहा “मैं इतना कह सकता हूं कि ये एक उपलब्धि है। जब आप बचपन में क्रिकेट खेलना शुरू करते हैं आपके मन में होता है कि एक दिन देश के लिए खेलें। देश के लिए खेलते-खेलते अचानक आपको पता चलता है कि आप 100वें टेस्ट मैच पर पहुंच गए हैं। ये एक बेहतरीन फीलिंग है। केवल टेस्ट ही नहीं उन्होंने तीनों फार्मेट में कमाल का काम किया है।”

गावस्कर चाहते हैं कि कोहली इस मैच में शतक लगाएं और उन खिलाड़ियों की सूची में अपना नाम भी दर्ज कराएं जिन्होंने अपने 100वें टेस्ट में ये कारनामा किया है। उन्होंने कहा कि ज्यादा बल्लेबाजों ने ऐसा नहीं किया है। कालिन काउड्रे ने पहली बार ये कारनामा किया है। अभी तक 9 ऐसे बल्लेबाज हैं जो ये कारनामा कर चुके हैं। इस सूची में जावेद मियांदाद, एलेक्स स्टीवर्ट जैसे बल्लेबाज हैं।

रिकी पोंटिंग ने तो अपने 100वें टेस्ट मैच में दोनों पारियों में शतक लगाया है। हालांकि ऐसा करने वाले वो पहले बल्लेबाज हैं। अगर कोहली अपने 100वें टेस्ट में ऐसा करने में कामयाब हो जाते हैं तो वे भारत की तरफ से पहले और एशिया के तीसरे बल्लेबाज बन जाएंगे जो ऐसा करेंगे। इससे पहले जावेद मियांदाद और इंजमाम उल हक ऐसा कर चुके हैं।

उन्होंने अपने 100वें टेस्ट की याद भी शेयर की और बताया कैसे वो अपने 100वें टेस्ट मैच में 48 रन के स्कोर पर स्कवायर लेग पर आसान सा कैच देकर आउट हो गए थे।