हरियााणा के वोकेशनल टीचर्स के लिए खुशखबरी, सरकार ने बढ़ाया मानदेय, जानें कितनी हुई वृद्धि

हरियाणा में वोकेशनल टीचर्स को मानदेय में सात हजार 259 रुपये की बढ़ोतरी का तोहफा मिला है। अब हर महीने उन्हें 23 हजार 241 रुपये की बजाय 30 हजार 500 रुपये मिलेंगे। इसके अलावा अगले साल से हर वर्ष पांच प्रतिशत की वेतन वृद्धि भी मिलेगी।

हर महीने मिलेंगे 30 हजार 500 रुपये, हर साल पांच प्रतिशत बढ़ेगा मानदेय

शिक्षा विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव महावीर सिंह ने शुक्रवार को इस संबंध में लिखित आदेश जारी कर दिया। बढ़ा हुआ मानदेय इस साल पहली जनवरी से लागू होगा। फैसले से 2094 वोकेशनल टीचर्स को फायदा होगा। हरियाणा वोकेशनल टीचर्स एसोसिएशन की ओर 59 दिन तक धरना दिये जाने के बाद विगत 23 दिसंबर को रबी सीजन में किसानों को फसल अवशेष जलाने से रोकने के लिए सरकार सक्रिय हो गई है। मुख्य सचिव संजीव कौशल ने फसल अवशेष प्रबंधन के लिए कार्य योजना तैयार करने के निर्देश दिए हैं। साथ ही एक्स सीटू प्रबंधन के लिए वर्तमान प्रौद्योगिकियों के अलावा नई तकनीकों और परियोजनाओं की संभावनाएं तलाशने को कहा।

फसल अवशेषों के एक्स सीटू प्रबंधन की समीक्षा बैठक में मुख्य सचिव ने कहा कि पिछले साल फाने (गेहूं के फसल अवशेष) और पराली (धान के अवशेष) जलाने की घटनाओं में काफी कमी आई थी। इस साल इसमें और कमी लाने के लिए अभी से कार्ययोजना तैयार की जाए। ग्राम स्तर पर कमेटियां बनाए जाएं ताकि जमीनी स्तर पर फाने और पराली जलाने की घटनाओं पर कड़ी नजर रखी जा सके। यह कमेटियां किसानों को भी जागरूक करेंगी।

उन्‍होंने कहा कि पराली की खपत के लिए प्रदेश में 11 बायोमास प्रोजेक्ट संचालित हैं जिनमें 4.48 लाख टन पराली का उपयोग किया जा रहा है। वर्ष 2022-23 में 6.43 लाख टन पराली की खपत बायोमास प्रोजेक्ट में होगी। दो और बायोमास पावर प्रोजेक्ट तथा एक एथेनाल प्लांट का कार्य भी आगामी जुलाई में पूरा हो जाएगा। इन प्लांट के पूरा होने से 4.26 लाख टन पराली का अतिरिक्त उपयोग किया जाएगा।

इस दौरान पर्यावरण एवं जलवायु परिवर्तन विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव एके सिंह, उद्योग एवं वाणिज्य विभाग के प्रधान सचिव विजयेंद्र कुमार, हरियाणा राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के चेयरमैन राघवेंद्र राव ने भी अपनी बात रखी।