हरियाणा में शिक्षकों की भर्तियां रद, कर्मचारी चयन आयोग नए सिरे से आयोजित करेगा परीक्षा

Haryana Teachers Recruitment: हरियाणा में नए शिक्षकों की भर्तियों की प्रक्रिया को  रद कर दिया गया है। अब हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग अब इन भर्तियों के लिए अलग से परीक्षा लेगा।हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग ने शिक्षकों की अलग-अलग श्रेणी के 4500 पदों के लिए चल रही भर्ती प्रक्रिया को रद किया है।

सामाजिक आर्थिक आधार के नियमों में बदलाव के चलते आयोग ने लिया फैसला

इन पदों के लिए भर्ती प्रक्रिया 2019 और 2020 में शुरू हुई थी। स्कूलों में शिक्षक लगने के लिए युवाओं को अब और इंतजार करना होगा। प्रदेश सरकार द्वारा सामाजिक आर्थिक मानदंडों के तहत दिए जाने वाले अंकों में कटौती करने के चलते कर्मचारी चयन आयोग ने यह कदम उठाया है।

राज्य में शिक्षकों के 40 हजार से अधिक पद खाली, सरकार को घेरेगा विपक्ष

अब आयोग द्वारा नए नियमों के तहत इन पदों पर भर्ती की जाएगी। सरकारी स्कूलों में शिक्षकों के 40 हजार से अधिक पद खाली हैं। 4500 पदों की इस भर्ती को रद करने के फैसले को विपक्ष मुद्दा बना सकता है। इससे पूर्व संयुक्त पात्रता परीक्षा के चलते भी आयोग अलग-अलग कैटेगरी की कई भर्तियों को रद कर चुका है। यह परीक्षा जून में करवाए जाने की तैयारी है।

जिन पदों की भर्ती को रद किया गया है, उनमें सेकेंडरी स्कूल के लिए 3827 पद शामिल हैं। मेवात काडर के 37 और एलीमेंटरी एजुकेशन के 176 शिक्षक पदों की भर्ती को रद किया गया है। हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग द्वारा जारी किए गए नोटिस में बताया गया है कि स्कूल शिक्षा विभाग की ओर से 25 मार्च को इन भर्तियों को वापस लेने के लिए आयोग को पत्र लिखा गया था। विभाग के आग्रह के बाद ही आयोग ने यह फैसला लिया है। अब नए सिरे से इन पदों के लिए आवेदन आमंत्रित होंगे।