भारत के साथ अमेरिका की साझेदारी को अहम मानते हैं बाइडन- व्हाइट हाउस

राष्ट्रपति जो बाइडन के लिए अमेरिका की भारत के साथ साझेदारी  अहम रिश्तों में से एक है। स्थानीय समयानुसार शुक्रवार को व्हाइट हाउस की प्रेस सेक्रेटरी जेन साकी ने यह बात कही। दो दिन बाद ही 11 अप्रैल को भारत और अमेरिका के बीच होने वाली टू प्लस टू वार्ता को लेकर जानकारी देते हुए साकी ने अमेरिका के लिए भारत की अहमियत को बताया।  11 अप्रैल को होने वाली यह वार्ता रक्षा मंत्री और विदेश मंत्री स्तरीय है। इसके लिए रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और विदेश मंत्री एस जयशंकर अमेरिका जाएंगे और इस वार्ता में हिस्सा लेंगे।

प्रेस सेक्रेटरी ने कहा कि राष्ट्रपति को उम्मीद है कि इस वार्ता से भारत के साथ अमेरिका के काम तो जारी रहेंगे ही साथ ही हिंद प्रशांत क्षेत्र में साझा लक्ष्यों का भी विकास होता रहेगा। जेन साकी ने यह भी कहा, ‘हमें लगता है कि  यूक्रेन के खिलाफ रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन की कार्रवाई व बढ़ती महंगाई जैसी समस्याओं से निपटने के लिए दोनों देशों के बीच आपसी समन्वय जारी रहेगा।’ उन्होंने आगे कहा कि टू प्लस टू वार्ता में यकीनन कई विषयों को शामिल किया जा सकता है लेकिन हम उम्मीद करते हैं कि इन मुद्दों पर प्रमुखता से बात होगी।