इजराइली वायु सेना ने गाजा पट्टी में हमास के रॉकेट निर्माण स्‍थलों एवं सैन्‍य चौकी को बनाया निशाना

इजराइली वायु सेना ने एक बार फ‍िर गाजा पट्टी पर हमास की भूमिगत सुविधाओं पर जोरदार हमला किया है। वायु सेना ने हमास के रॉकेट निर्माण स्‍थलों एवं एक सैन्‍य चौकी को निशाना बनाया है। इजरायल डिफेंस फोर्सेज (आईडीएफ) ने अपने ट्विटर पेज पर लिखा है कि आज रात इजरायल की ओर से गाजा से दागे गए रॉकेटों के जवाब में, इजराइली वायु सेना ने रॉकेट निर्माण स्थल, भूमिगत बुनियादी ढांचे, एक सैन्य पोस्ट सहित हमास के आतंकी ठिकानों को निशाना बनाया ह

इजराइल डिफेंस फोर्सेज ने कहा है कि गाजा में आतंकवादियों ने कल रात से इजराइल पर कई रॉकेट दागे हैं। जवाब में, हमारी वायु सेना ने गाजा में एक हथियार और विस्फोटक निर्माण कारखाने और एक सैन्य परिसर सहित हमास के ठिकानों को निशाना बनाया। हम इजरायल पर हमले के किसी भी प्रयास के खिलाफ काम करना जारी रखेंगे। इसके पूर्व इजरायल की सेना ने बताया कि दक्षिणी इजरायल में हवाई हमले सायरन को बजते सुना जा रहा था।

गौरतलब है कि सितंबर महीने में यह खबर आई थी कि हमास और इजराइल के बीच समझौता हो गया है। यहां आपको यह जानना जरूरी होगा कि बीते कुछ दिनों से इजराइल और हमास के बीच सशस्त्र संघर्ष चला आ रहा था। अब दोनों पक्षों के बीच नए समझौते के बाद उम्मीद की जा रही थी कि इजराइल फिलिस्तीनी इलाकों पर लगी पाबंदियों में नरमी बरतेगा। हमास और इजराइल के बीच समझौता ऐसे वक्त में हुआ, जब बीते कुछ दिनों से दोनों के बीच तनाव बढ़ रहा था।

हमास एक फिलिस्तीनी सुन्नी आतंकवादी संगठन है। इसका गाजा पर नियंत्रण है। अगस्त के महीने में ही हमास ने इजराइली इलाकों में रॉकेट हमले किए थे, जिसके बाद इजराइली सेना ने जबरदस्त जवाबी कार्रवाई की थी। रिपोर्ट्स के मुताबिक 6 अगस्त से लगभग हर रोज इजराइली लड़ाकू विमान गाजा पर बमबारी करे रहे थे। बता दें कि हमास ने कोरोना महामारी के दौरान इजरायल के खिलाफ हमला कम कर दिया था। हालांकि, महीनों की शांति के बाद दोनों पक्षों के बीच हिंसा दोबारा हाल के हफ्तों में तेजी से बढ़ गई थी। नए हमलों में रॉकेट्स और फायर बमों का इस्तेमाल हो रहा था।