ब्रिटेन से लौटी महिला में मिला कोरोना का नया स्ट्रेन, आइसोलेशन से भागकर पहुंची थी आंध्र प्रदेश

ब्रिटेन में पाए गए कोरोना वायरस के नए स्ट्रेन ने भारत में दस्तक दे दी है। समाचार एजेंसी एएनआइ के मुताबिक देश में अबतक नए स्ट्रेन के 20 मामले दर्ज किए गए हैं। इसमें हाल ही में यूनाइटेड किंगडम से दिल्ली लौटीं और बाद में दिल्ली के एक आइसोलेशन सेंटर से भागने के बाद विशेष ट्रेन से आंध्र प्रदेश पहुंचीं एंग्लो-इंडियन महिला भी शामिल है। मंगलवार को उसमें भी वायरस का नया स्ट्रेन मिला है।

स्वास्थ्य और परिवार कल्याण विभाग, आंध्र प्रदेश के आयुक्त कटमनेनी भास्कर ने कहा कि आंध्र प्रदेश में ब्रिटेन के नए स्ट्रेन के फैलने का अभी कोई सबूत नहीं मिला है। उन्होंने कहा कि ब्रिटेन से आइ महिला की वजह से नया स्ट्रेन आंध्र प्रदेश में नहीं फैला है। उसका बेटा जो उसके साथ यात्रा कर रहा था उसकी रिपोर्ट नेगेटिव आई है। भास्कर ने जनता से अपील करते हुए कहा कि इसको लेकर घबराने की जरूरत नहीं है। अफवाहों पर विश्वास न करें क्योंकि सरकार द्वारा स्थिति की लगातार निगरानी की जा रही है।

आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार आंध्र प्रदेश प्रशासन ने ब्रिटेन से राज्य में आए 1,423 व्यक्तियों में से 1,406 लोगों का पता लगा लिया है। इनमें से कुल 12 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। इन सभी का आरटीपीसीआर टेस्ट किया गया है। इसके अलावा 1,406 व्यक्तियों के 6,364 प्राथमिक संपर्कों की जांच की गई और 12 लोग वायरस से संक्रमित पाए गए हैं।

इन संक्रमित लोगों के कुल 24 नमूने सेलुलर और आणविक जीवविज्ञान (CCMB) केंद्र को भेजेा गया। इसमें दिल्ली से आंध्र प्रदेश के राजमुंद्री पहुंची महिला में कोरोना वायरस का नया स्ट्रेन मिला है। स्वास्थ्य और परिवार कल्याण विभाग के आयुक्त ने कहा कि CCMB से 23 रिपोर्टें प्राप्त करना बाकी है।

भारत भी उन देशों में शामिल हो गया है, जहां नए स्‍ट्रेन के मामले सामने आ चुके हैं। भारत के अलावा डेनमार्क, नीदरलैंड्स, ऑस्‍ट्रेलिया, इटली, फ्रांस, स्‍वीडन, स्विट्जरलैंड, स्‍पेन, कनाडा, जर्मनी, लेबनान, जापान और सिंगापुर में भी यूके वाला स्‍ट्रेन मिला है। भारत में अबतक जो केस मिले हैं, उनके तीन सैंपल बेंगलुरु, दो हैदराबाद और एक पुणे में पॉजिटिव पाए गए।