आजमगढ़ बेटे ने पिता और भाई को मारी गोली मौत:प्रापर्टी में बंटवारे और खर्चे को लेकर हुआ था विवाद, घटनास्थल पहुंचे SP, आरोपी हिरासत में

आजमगढ़ जिले के कप्तानगंज थाना क्षेत्र के धनधारी गांव में देर रात बेटे ने अपने पिता और सगे भाई की गोली मारकर हत्या कर दी। यह घटना देर रात उस समय घटित हुई जब मनोज सिंह (46) पुत्र श्रीनारायण सिंह की प्रापर्टी में बंटवारे और खर्चे को लेकर विवाद हुआ। इसी दौरान मनीष भी आ गया। आरोपी मनोज सिंह ने पहले अपने पिता श्रीनारायण सिंह और बाद में सगे भाई मनीष सिंह (40) को अपनी लाइसेंसी पिस्टल निकाल कर गोली मार दी। बाप-बेटे दोनों की घटनास्थल पर ही मौत हो गई। घटना की जानकारी मिलते ही देर रात जिले के एसपी अनुराग आर्य और एसपी ग्रामीण सिद्धार्थ सहित आला अधिकारियों ने घटनास्थल का दौरा कर आरोपी को हिरासत में ले लिया है।

प्रापर्टी के विवाद में हुई हत्या
घटनास्थल का निरीक्षण करने के बाद जिले के एसपी अनुराग आर्य ने बताया कि प्रापर्टी के विवाद को लेकर बेटे ने अपने पिता और सगे भाई की गोली मारकर हत्या की है। अभियुक्त ने अपने बड़े पिता की पत्नी को भी लाठी-डंडे से पीटा है। घायल महिला को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। अभियुक्त मनोज सिंह पुलिस हिरासत में है और विस्तृत पुछताछ की जा रही । मामले में मुकदमा दर्ज कर अग्रिम कार्रवाही की जा रही है।

रिटायर्ड सैनिक है आरोपी
एसपी अनुराग आर्य ने बताया कि अभियुक्त रिटायर्ड सैनिक है। आरोपी के पिता श्रीनारायण सिंह भी सेना से रिटायर्ड थी। आरोपी एक साल पहले सेना से रिटायर होकर आया। आरोपी के सगे भाई मनीष सिंह (मृतक) को इसके बड़े पिता स्व रामनारायण सिंह की पत्नी ने 6 वर्ष की आयु में गोद ले लिया था। देर रात मनोज सिंह व इसके पिता श्री नारायण सिंह में प्रॉपर्टी व खर्चे को लेकर कहासुनी हो गयी इस बीच मनीष सिंह भी आ गया। इसी दौरान अभियुक्त ने पहले अपने पिता और फिर भाई पर गोली चला दी, जिससे बाप बेटे की दर्दनाक मौत हो गई।