कोयला क्षेत्र में पारदर्शिता लाना है पीएम नरेंद्र मोदी का लक्ष्य, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने सोमवार को कहा कि कोयला क्षेत्र से जुड़ी विसंगतियों को दूर करना और इस सेक्टर में पारदर्शिता लाना प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का लक्ष्य है। समाचार एजेंसी एएनआई की एक रिपोर्ट के मुताबिक शाह ने कोयला खदानों के लिए ‘सिंगल विंडो क्लियरेंस सिस्टम’ की शुरुआत करते हुए यह बात कही। यह सिंगल विंडो क्लियरेंस सिस्टम एक ऑनलाइन प्लेटफॉर्म है। इसके माध्यम से कोयला खदानों के सुचारू संचालन के लिए मंजूरी प्राप्त करने में मदद मिलेगी।

शाह ने इस कार्यक्रम में कहा कि कोविड-19 के समय फार्मा, इन्फ्रास्ट्रक्चर और स्पेस सहित कई सेक्टर्स में सुधार किए गए हैं। उन्होंने कहा कि इस महामारी की वजह से देश को 5 ट्रिलियन डॉलर की इकोनॉमी बनाने के लिए किए जा रहे काम की रफ्तार भले ही धीमी हुई है लेकिन हम इस लक्ष्य को निश्चित रूप से हासिल करेंगे।

शाह ने कहा कि देश के कोयला क्षेत्र में पारदर्शिता और पूर्ण क्षमता के इस्तेमाल की दरकार है और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई वाली सरकार में इस पर विशेष जोर दिया गया है। इस मौके पर केंद्रीय कोयला मंत्री प्रहलाद जोशी भी उपस्थित थे।