MP: जहरीली शराब पीने से 20 मौतों पर सीएम शिवराज ने लिया संज्ञान, तत्काल प्रभाव से DM-SP हटाए गए

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मुरैना मामले को लेकर एक उच्च स्तरीय बैठक की। मुरैना में बीते दिन जहरीली शराब पीने से 20 लोगों की मौत हो गई थी। इस मामले पर शिवराज सिंह चौहान सख्त दिखे। उन्होंने जिले के डीएम और एसपी पर सख्त कार्रवाई की। जहरीली शराब से मौतों के मामले में मुरैना के जिला कलेक्टर और पुलिस अधीक्षक (एसपी) को तत्काल प्रभाव से उनके पद से हटा दिया गया है।

मध्य प्रदेश के मुरैना जिले में जहरीली शराब पीने से मरने वालों की संख्या लगातार बढ़ती गई। पहले पांच लोगों के मृत्यु की जानकारी सामने आई, फिर आंकड़ा 12 तक पहुंचा और फिर अंत में 20 लोगों की मौत जहरीली शराब पीने से बताई गई। जहां इनके परिजनों ने सड़क पर शव रखकर प्रदर्शन किया। इस बीच मामले में सात लोगों के खिलाफ एआइआर दर्ज की गई थी। वहीं एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है। मुरैना के एसपी अनुराग सुजैनिया ने इसकी जानकारी दी थी। इससे पहले मामले में कार्रवाई करते हुए एसएचओ को तत्काल निलंबित कर दिया गया था और जांच के आदेश दे दिए गए थे।

इसपर सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा था कि घटना बहुत दुर्भाग्यपूर्ण और दुखदाई है। मैंने जांच के निर्देश दिए हैं। एक टीम बनाई गई है जो जांच कर रही है। जांच के तथ्य अभी आने हैं, लेकिन इतना पक्का है कि दोषी छोड़े नहीं जाएंगे। हम कठोर कार्रवाई करेंगे। मैं तथ्यों की प्रतीक्षा कर रहा हूं। वहीं, गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने इसकी जानकारी देते हुए कहा था कि आरोपियों को बख्शा नहीं जाएगा। एक टीम मामले की जांच करेगी। दैनिक जागरण के सहयोगी प्रकाशन नईदुनिया के अनुसार मरने वालों में मानपुर के पृथ्वी गांव के और सुमावली के पावली गांव से लोग शामिल हैं।