सीएम योगी आदित्‍यनाथ ने गोरखपुर में सुनींं जनता की समस्याएं, कहा- मौके पर जाकर अधिकारी कराएं समस्‍याओं के समाधान

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को गोरखनाथ मंदिर में आयोजित जनता दरबार में सौ से अधिक  लोगों की समस्याएं सुनी। उन्होंने समाधान का आश्वासन दिया। लगभग 45 मिनट वह जनता के बीच में रहे। एक- एक व्यक्ति की बात सुनी और कहा कि अधिकारी मौके पर जाकर समस्या का समाधान कराएंगे। उन्हें निर्देशित किया जाएगा।

फरियादी सुबह छह बजे के बाद आना शुरू हो गए थे। सात बजे तक लगभग 200 लोग जनता दरबार में पहुंच गए थे।इसमें फरियादियों के अलावा दर्शन के लिए आए लोग भी शामिल थे। मुख्यमंत्री के पहुंचने पर सभी ने खड़े होकर उनका अभिवादन किया। इसके बाद उन्होंने एक- एक व्यक्ति की समस्या के बारे में पूछा और समाधान का आश्वासन दिया।

इसके पूर्व उन्होंने श्रीनाथजी की विधि विधान से पूजा अर्चना की और आशीर्वाद लिया। उन्होंने गुरु ब्रह्मलीन महंत अवेद्यनाथ महाराज के समाधि स्थल पर पहुंच कर आरती की। ब्रह्मलीन महंत दिग्विजय नाथ महाराज की समाधि का दर्शन किये। इसके बाद गोशाला में गए और गायों को पूड़ी व गुड़ खिलाए।

पूर्व सैनिकों ने किया मुख्यमंत्री को सम्मानित

पूर्व सैनिकों का प्रतिनिधिमंडल गोरखनाथ मंदिर पहुंचा। राज्य सरकार की सेवाओं में पूर्व सैनिकों के लिए समूह ख में आरक्षण दिए जाने व शहीदों के स्वजन की अनुग्रह राशि 25 से बढ़ाकर 50 लाख रुपये किए जाने को लेकर उन्होंने मुख्यमंत्री को मोमेंटो प्रदान कर सम्मानित किया। जूनियर वारंट अफसर सतीश शुक्ला व विश्व दीपक त्रिपाठी तथा नायक रणविजय सिंह ने बताया कि इससे पूर्व सैनिकों व शहीदों का सम्मान कई गुना बढ़ गया है। पूर्व सैनिकों के लिए समूह ख में पहले आरक्षण था। 1999 में इसे समाप्त कर दिया गया था। अब पुनः मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के प्रयास से यह आरक्षण लागू किया गया है। इससे पूर्व सैनिकों का बहुत लाभ होगा।