कुलभूषण जाधव मामले में भारत ने पाक को लताड़ा, कहा- अंतरराष्ट्रीय अदालत के फैसले का करे सम्मान

पाकिस्तान में मौत की सजा पाए भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव पर अंतरराष्ट्रीय अदालत के फैसले को लागू करने में विफल रहने के लिए भारत ने गुरुवार को इस्लामाबाद को जमकर लताड़ लगाई।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव ने कहा कि पाकिस्तान सरकार ऐसा वातावरण बनाने में नाकाम रही है जिसमें जाधव के खिलाफ आरोपों को गंभीरता और प्रभावी तरीके से चुनौती दी जा सके। उन्होंने कहा, ‘पाकिस्तान को अंतरराष्ट्रीय अदालत के फैसले को सही अर्थो में लागू करने की जरूरत है जिसमें मामले से संबंधित सभी दस्तावेज और बिना शर्त, बिना रोक-टोक काउंसलर एक्सेस उपलब्ध कराना शामिल है।’ भारत जाधव के लिए भारतीय वकील की नियुक्ति की मांग कर रहा है।

उधर, इस्लामाबाद में पाकिस्तानी विदेश कार्यालय के प्रवक्ता जाहिद हाफिज चौधरी ने कहा कि भारत को उसके काउंसलर एक्सेस के प्रस्ताव को स्वीकार कर लेना चाहिए और अंतरराष्ट्रीय अदालत के फैसले को लागू करने में सहयोग करना चाहिए। चौधरी ने कहा, ‘हम भारत का आह्वान करते हैं कि वह आगे आए और तीसरे काउंसलर एक्सेस के प्रस्ताव को स्वीकार करे और इस्लामाबाद हाई कोर्ट में मामले को आगे बढ़ने दे।’ उन्होंने कहा कि पाकिस्तान पहले ही दो बार भारत को काउंसलर एक्सेस उपलब्ध करा चुका है।