Shash Mahapurush Yog 2023: ढाई साल तक इन राशियों पर पड़ेगा शश महापुरुष राजयोग का शुभ प्रभाव

Shash Mahapurush Yog 2023 ज्योतिष शास्त्र में बताया गया है कि ग्रहों की बदलती स्थिति के कारण कई प्रकार के योग का निर्माण होता है। कुंभ राशि में शनि ग्रह के होने से शश महापुरुष राजयोग का निर्माण हो रहा है। आइए जानते हैं किन राशियों को मिलेगा लाभ।

ग्रहों की बदलती स्थिति के कारण कई प्रकार के योग का निर्माण होता है, जिसका प्रभाव सभी राशियों पर सकारात्मक व नकारात्मक रूप से पड़ता है। बता दें कि वर्तमान समय में शनि देव कुंभ राशि में विराजमान हैं और वर्ष 2025 तक इसी राशि में आसीन रहेंगे। कुंभ राशि में शनि के होने से शश महापुरुष राजयोग का निर्माण हुआ है, जिसे ज्योतिष शास्त्र में बहुत ही लाभकारी माना गया है। बता दें कि शश महापुरुष राजयोग के निर्माण से चार राशियां ऐसी हैं, जिन्हें इस दौरान सर्वाधिक लाभ मिलेगा। आइए जानते हैं-

मेष राशि

शश महापुरुष राजयोग राजयोग का शुभ प्रभाव मेष राशि पर पड़ रहा है। इस दौरान आर्थिक वृद्धि होगी और सेहत में सुधार आएगा। परिवार का माहौल भी आनंदमय रहेगा। कार्यक्षेत्र में भी उन्नति के अवसर प्राप्त होंगे।

वृषभ राशि

कुंभ राशि में शनि ग्रह के होने से वृषभ राशि के जातकों को विशेष लाभ मिलेगा। इस दौरान कार्यक्षेत्र में उन्नति प्राप्त होगी और मान-सम्मान में वृद्धि होगी। पदोन्नति के भी संकेत में मिल रहे हैं। रुके हुए कार्य पूरे होंगे।

कन्या राशि

शश महापुरुष राजयोग का लाभ कन्या राशि के जातकों को मिलेगा। इस दौरान कार्यक्षेत्र में नए अवसर प्राप्त होंगे और रहन-सहन में बदलाव होगा। इसके साथ साहस और पराक्रम में वृद्धि होगी। कार्यक्षेत्र में उच्च अधिकारी से संबंध अच्छे होंगे और इसका लाभ मिलेगा।

कुंभ राशि

कुंभ राशि के जातकों के लिए शश महापुरुष राजयोग शुभ साबित होगा। इस दौरान जातकों पर शनि देव की विशेष कृपा-दृष्टि बनी रहेगी और कार्यक्षेत्र में में उन्नति हासिल होगी। आर्थिक वृद्धि के भी योग बन रहे हैं। परिवार में सुखद माहौल से मन प्रसन्न रहेगा। लंबे समय से रुके हुए कार्य भी सम्पन्न होंगे।

डिसक्लेमर- इस लेख में निहित किसी भी जानकारी/सामग्री/गणना की सटीकता या विश्वसनीयता की गारंटी नहीं है। विभिन्न माध्यमों/ज्योतिषियों/पंचांग/प्रवचनों/मान्यताओं/धर्मग्रंथों से संग्रहित कर ये जानकारियां आप तक पहुंचाई गई हैं। हमारा उद्देश्य महज सूचना पहुंचाना है, इसके उपयोगकर्ता इसे महज सूचना समझकर ही लें। इसके अतिरिक्त, इसके किसी भी उपयोग की जिम्मेदारी स्वयं उपयोगकर्ता की ही रहेगी।