G20 सम्मेलन की सुरक्षा करेगा सेना का काउंटर ड्रोन सिस्टम:बम डिफ्यूजल स्क्वॉड-स्निफर डॉग भी तैनात; दिल्ली सरकार का निर्देश- सरकारी कर्मचारी शहर में ही रहें

दिल्ली में 9-10 सितंबर को होने वाली G20 समिट की सुरक्षा भारतीय सेना का खोजी दस्ता और बम निरोधक दस्ता करेगा। सेना सूत्रों के मुताबिक सेना ने ड्रोन के जरिए होने वाले संभावित हमलों को रोकने के लिए काउंटर-ड्रोन सिस्टम भी तैनात किया है।

इसके अलावा G20 सम्मेलन के 2 दिनों तक चलने वाले मुख्य आयोजन में दिल्ली पुलिस के जवानों और वॉलेंटियर्स समेत 40 हजार लोगों की ड्यूटी लगाई गई है।

दिल्ली में G20 को लेकर अब तक की तैयारियां…

MCD ने 3 हजार से ज्यादा पोस्टर हटाए
दिल्ली नगर निगम MCD ने सौंदर्यीकरण अभियान के तहत दीवारों और मकानों-दुकानों, फ्लाईओवर की दीवारों समेत कई जगहों से 3,254 पोस्टर हटाए। इसके अलावा आठ जगहों स्क्रैप मैटेरियल से बनी स्टेच्यू लगाई गई हैं। इसके अलावा पब्लिक वॉल्स पर भारत की सांस्कृतिक विरासत और चंद्रयान-3 की सॉफ्ट-लैंडिंग वाले म्यूरल्स लगाए हैं।

MCD ने एक बयान में कहा है कि इस दौरान 1651.5 मीट्रिक टन मलबा और डिमोलिशन वेस्ट भी हटाया गया है।

भारत मंडपम में लगी 27 फुट की नटराज प्रतिमा, 12 करोड़ और 7 महीने में तैयार हुई
मूर्तिकार राधाकृष्ण स्थापति ने बताया कि 18-20 टन वजनी नटराज की ब्रॉन्ज स्टेच्यू बनाने के लिए लॉस्ट-वैक्स कास्टिंग मैथड का इस्तेमाल किया गया है। इस मूर्ति को पूरा करने में 100 से ज्यादा कलाकारों को सात महीने और लगभग 3.25 लाख घंटे लगे। इसे बनाने में लगभग 10-12 करोड़ का खर्च आया।

चोल कालीन लॉस्ट-वैक्स कास्टिंग मैथड (मधुच्छिष्ट विधान) का इस्तेमाल सिंगल पीस मूर्तियां बनाने के लिए किया जाता है, जिसका मतलब है कि नटराज की मूर्ति में कोई वेल्डेड हिस्सा नहीं है।

एजुकेशन डिपार्टमेंट को निर्देश- शहर में ही रहें
G20 सम्मेलन के मद्देनजर दिल्ली सरकार ने 7 सितंबर से 10 सितंबर तक सभी स्कूलों को बंद रखने का आदेश दिया है। लेकिन, शिक्षा विभाग के कर्मचारियों को इस दौरान शहर में ही रहने की हिदायत दी गई है, ताकि किसी भी संभावित आवश्यकता को पूरा करने के लिए वे उपलब्ध रहें।

दिल्ली गवर्नमेंट के सर्कुलर में कहा गया है कि सभी कर्मचारियों को फोन पर उपलब्ध रहना होगा। इस बीच उन्हें किसी तरह की बाहरी छुट्टी नहीं दी जाएगी, क्योंकि किसी भी वक्त उनकी जरूरत पड़ सकती है।

सुप्रीम कोर्ट, विदेश मंत्रालय और इंडिया गेट भी रहेगा बंद
दिल्ली-NCR में 8 सितंबर से 10 सितंबर तक पब्लिक हॉलिडे की घोषणा की गई है। उससे पहले 7 सितंबर को जन्माष्टमी की सरकारी छुट्टी है। इतना ही नहीं, कार्मिक मंत्रालय ने पिछले महीने जारी आदेश में कहा था कि G20 सम्मेलन के मद्देनजर राजधानी में सभी केंद्रीय सरकारी कार्यालय भी बंद रहेंगे।

इस लिस्ट में सुप्रीम कोर्ट, मेट्रो स्टेशन, दूरदर्शन टावर-1, दूरदर्शन टावर-2, भारत संचार भवन, चुनाव आयोग ऑफिस, विदेश मंत्रालय ऑफिस, केजी मार्ग, आर्ट म्यूजियम, नेशनल साइंस सेंटर, इंडिया गेट और पटियाला हाउस कोर्ट शामिल हैं। इन इमारतों को 8 सितंबर की सुबह 9 बजे खाली करा दिया जाएगा।

ट्रैफिक के लिए जारी हुआ गजेट नोटिफिकेशन
सोमवार 4 सितंबर को दिल्ली सरकार ने ट्रैफिक प्रतिबंधों को लेकर गजेट नोटिफिकेशन जारी किया था। इसके तहत ट्रैफिक को लेकर ये नियम लागू किए जा रहैं…

  • 7 सितंबर की रात से मथुरा रोड (आश्रम चौक से आगे), भैरों रोड, पुराना किला रोड पर माल वाहक, कॉमर्शियल, इंटर स्टेट बस, लोकल सिटी बस DTC और DIMTS बसें नहीं चलेंगी। 10 सितंबर की रात तक प्रगति मैदान टनल के अंदर ट्रैफिक ऑपरेशन होगा।
  • दूध, सब्जियों, फल, मेडिकल जैसी जरूरी चीजों को ले जाने वाले मालवाहकों को लीगल नो-एंट्री परमिट के साथ ही दिल्ली में एंट्री दी जाएगी।
  • दिल्ली में पहले से मौजूद बसों समेत सभी कॉमर्शियल व्हीकल्स को रिंग रोड और दिल्ली की सीमाओं की ओर सड़क नेटवर्क पर जाने दिया जाएगा।
  • किसी भी टीएसआर और टैक्सी को 9 सितंबर की सुबह 5 बजे से 10 सितंबर रात 12 बजे तक शहर में एंट्री नहीं होगी।
  • हालांकि, होटलों में वैलिड बुकिंग वाले, रहवासियों, टूरिस्ट व्हीकल और रेलवे स्टेशन जाने वाली टैक्सियों को शहर के अंदर जाने की परमिशन होगी।
  • आर्म्ड फोर्सेस, पैरामिलिट्री, पुलिस, डिजास्टर मैनेजमेंट, फायर टेंडर, एम्बुलेंस और रोड मेंटेनेन्स, इलेक्ट्रिसिटी, पानी या सीवेज लाइन, कम्युनिकेशन नेटवर्क जैसी इमरजेंसी सर्विस की गाड़ियों को पूरी दिल्ली में आने-जाने दिया जाएगा।

120 से ज्यादा फ्लाइट्स पर होगा असर
8-10 सितंबर के दौरान लगभग 120 उड़ानें प्रभावित होने की संभावना है। DIAL राजधानी में इंदिरा गांधी अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे को ऑपरेट करता है। यहां से रोजाना लगभग 1,300 फ्लाइट्स चलती हैं। 26 अगस्त को DIAL ने कहा था कि उसे 8 सितंबर से तीन दिनों के दौरान करीब 160 आने और जाने वाली डोमेस्टिक फ्लाइट्स कैंसिल करने के लिए एयरलाइंस से आवेदन मिले थे।

30 से ज्यादा देशों के प्रमुख शामिल होंगे
भारत, ग्रुप के मौजूदा अध्यक्ष के रूप में G20 शिखर सम्मेलन की मेजबानी कर रहा है। इसमें 30 से अधिक राष्ट्राध्यक्षों, यूरोपीय संघ और आमंत्रित अतिथि देशों के अधिकारियों और 14 अंतरराष्ट्रीय संगठनों के प्रमुखों के भाग लेने की संभावना है।