CM योगी आदित्यनाथ का प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करने वाले छात्रों को बड़ा गिफ्ट, अभ्युदय कोचिंग का शुभारंभ

 विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के लिए उत्तर प्रदेश सरकार की महत्वाकांक्षी ‘मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना’ की शुरुआत सोमवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कर दी। उन्होंने सोमवार सुबह सभी 18 मंडलों में अभ्युदय कोचिंग का वर्चुअल शुभारंभ मां सरस्वती के समक्ष दीप प्रज्ज्वलित कर किया। इस दौरान सीएम योगी पंजीयन कराने वाले अभ्यर्थियों से बात भी की। औपचारिक शुभारंभ के बाद वसंत पंचमी यानी मंगलवार से सभी मंडलों में फिजिकल और वर्चुअल क्लास शुरू हो जाएंगी। इस योजना के तहत छात्रों को सिविल सर्विस, आइआइटी जेईई, नीट सहित सभी प्रतियोगी परीक्षाओं की निश्शुल्क कोचिंग दी जाएगी।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि जीवन के सर्वांगीर्ण विकास का माध्यम ही अभ्युदय है। इसलिए यह कोचिंग मात्र नहीं है, यह उत्तर प्रदेश के युवाओं के सर्वांगीर्ण विकास का पथ प्रदर्शक बनेगा, इसी विश्वास के साथ इस योजना को शुरू किया गया है। उन्होंने बताया कि मंगलवार से इसकी कक्षाएं शुरू हो जाएंगी।उन्होंने आस्वस्थ किया कि जो भी छात्रों के मन में है, वह परिणाम यह योजना जरूर देगी।मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना’ के शुभारंभ अवसर पर आइआइटी कानपुर के सेवानिवृत्त प्रो. एचसी वर्मा ने कहा कि यह ऐसी सौगात है, जिसका अनुकरण सभी करेंगे। उन्होंने लाभार्थी छात्रों से कहा कि आत्मनिर्भर भारत को बनाने के लिए हमें स्वयं को आत्मनिर्भर बनाना पड़ेगा। जब छात्र कोचिंग लेंगे तो उसमें भी आत्मनिर्भरता की भावना को भूलना नहीं है। सभी छात्र इस कोचिंग को आधार बनाकर खुद को विकसित करना है।विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करने वाले ऐसे विद्यार्थियों के लिए अभ्युदय कोचिंग वरदान साबित होगी, जो धन की कमी के कारण कोचिंग नहीं कर पाते हैं। इसमें निश्शुल्क पढ़ाई कराई जाएगी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की पहल पर शुरू की जा रही अभ्युदय कोचिंग में विद्यार्थियों को प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के इच्छुक विद्यार्थियों के लिए प्रवेश परीक्षा शनिवार को काराई गई थी। मंगलवार से सभी मंडलों में फिजिकल और वर्चुअल क्लास शुरू हो जाएंगी।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर कोचिंग में सीनियर आइएएस अधिकारी भी विद्यार्थियों से सीधा संवाद करेंगे और उनकी जिज्ञासा को शांत करेंगे। इसमें मुख्य सचिव आरके तिवारी, कृषि उत्पादन आयुक्त आलोक सिन्हा, अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी, अपर मुख्य सचिव सूचना नवनीत सहगल, अपर मुख्य सचिव मुख्यमंत्री एसपी गोयल, प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री संजय प्रसाद व सचिव मुख्यमंत्री आलोक कुमार शामिल हैं। यही नहीं विद्यार्थियों को ई लर्निंग पोर्टल पर इन अधिकारियों के वीडियो लेक्चर भी उपलब्ध रहेगा।