झज्जर सेहत विभाग ने पकड़ा लिंग जांच गिरोह:दिल्ली के सरस अल्ट्रासाउंड पर मारा छापा; महिला दलाल को किया काबू

हरियाणा के झज्जर स्वास्थ्य विभाग की टीम ने लिंक जांच गिरोह का भंडाफोड़ किया है। टीम को गुप्त सूचना मिली थी कि बहादुरगढ़ निवासी महिला दलाल कुमंत खान अक्सर जिले की गर्भवती महिलाओं को दिल्ली ले जाकर उनके गर्भ में पल रहे बच्चों की लिंग जांच करवाती है। सूचना पर स्वास्थ्य विभाग अधिकारी ब्रह्मदीप सिंह ने जिला प्रशासन के सहयोग से स्वास्थ्य विभाग के पांच डॉक्टरों की टीम तैयार की।

स्वास्थ्य विभाग की टीम ने एक गर्भवती महिला को प्रलोभन ग्राहक बनाकर महिला दलाल कुमंत खान से फोन पर संपर्क कराया और लिंग जांच की बात की गई। महिला दलाल कुमंत खान ने प्रलोभन महिला ग्राहक से लिंग जांच के लिए 50 हजार में सौदा किया। फिर उसके बाद 16 सितंबर को प्रलोभन महिला ग्राहक को दलाल कुमंत खान ने फोन करके बहादुरगढ़ के बस स्टैंड पर बुलाया।

दलाल ने फोन कर शनिवार को लिंग जांच कराने से किया मना
​​​​​​​लेकिन, महिला दलाल कुमंत खान बस स्टैंड पर नहीं पहुंची। फोन करके महिला ग्राहक से कहा कि मुझे जरूरी काम से जयपुर जाना पड़ गया, आज तुम्हारा लिंग जांच नहीं होगा, रविवार को होगा। तुम नजफगढ़ के मेट्रो स्टेशन के पास पहुंच जाना। जहां पर तुम्हें कमलेश उर्फ पिंकी एक महिला मिलेगी, जो तुम्हारा लिंग जांच करवाएगी।

​​​​​​​जिसके बाद महिला दलाल कुमंत खान ने महिला ग्राहक को कमलेश उर्फ पिंकी नाम की महिला दलाल का फोन नंबर भी दिया, इसके बाद स्वास्थ्य विभाग की टीम 17 सितंबर रविवार को महिला ग्राहक को लेकर नजफगढ़ के मेट्रो स्टेशन के पास पहुंची। महिला दलाल कमलेश उर्फ पिंकी को फोन से संपर्क किया, जिसके बाद महिला दलाल कमलेश नजफगढ़ के मेट्रो स्टेशन पर आ गई।

महिला ग्राहक से दलाल ने लिए 50 हजार
महिला ग्राहक को गाड़ी में बैठाकर उससे 50 हजार रुपए लिए और फिर उसे दिल्ली के द्वारका स्थित सरस अल्ट्रासाउंड केंद्र पर ले जाया गया। महिला ग्राहक का अल्ट्रासाउंड करने के बाद अल्ट्रासाउंड केंद्र से बाहर निकलते समय ग्राहक को बताया गया कि उसके पेट में लड़की है। तभी झज्जर स्वास्थ्य विभाग की टीम ने सरस अल्ट्रासाउंड केंद्र पर छापेमारी की।

महिला दलाल सहित लिंग जांच करने वाले डॉक्टर को भी काबू किया। महिला दलाल कमलेश उर्फ पिंकी से 23500 रुपए की बरामदगी की गई है, लेकिन स्वास्थ्य विभाग की टीम के आने से पहले अनिल नाम का दलाल 26500 लेकर अपने गांव चला गया। टीम को छानबीन करने के दौरान अल्ट्रासाउंड केंद्र से गर्भपात करने की दवाइयां भी मिली हैं, जिनको जब्त किया गया है।

सेहत विभाग ने 5 आरोपियों पर दर्ज कराई FIR
स्वास्थ्य विभाग की टीम द्वारा लिंग जांच ग्रुप में शामिल पांच लोगों के खिलाफ मामला दर्ज करवाया गया है, जिसमें आरोपी महिला दलाल कुमंत खान, महिला दलाल कमलेश उर्फ पिंकी, डॉ. अनुज मिश्रा, डॉक्टर अशोक और अनिल शामिल हैं। वहीं, स्वास्थ्य विभाग अधिकारी ब्रह्मदीप सिंह ने अपने कार्यालय में प्रेस वार्ता कर मामले की विस्तार से जानकारी दी है।