पायलट के कारण दिल्ली-पुणे फ्लाइट लगातार दो दिन लेट हुई:पैसेंजर्स इंतजार करते रहे; एयरलाइन ने ऑपरेशनल प्रॉब्लम्स का हवाला दिया

पायलट के देर से आने के कारण एअर इंडिया की दिल्ली-पुणे फ्लाइट लगातार दो दिन लेट रही। 25 सितंबर को पायलट के इंतजार में फ्लाइट नंबर AI853 दो घंटे तक रनवे पर खड़ी रही। इस फ्लाइट में 100 से ज्यादा पैसेंजर सवार थे।

यही फ्लाइट अगले दिन 26 सितंबर को पायलट के कारण 4 घंटे लेट रही। पैसेंजर्स​​​​​ ​एयरपोर्ट टर्मिनल बिल्डिंग पर इंतजार करते रहे। लोगों ने जब हंगामा शुरू किया तो एयरलाइन कंपनी के स्टाफ ने देरी के पीछे ऑपरेशनल प्रॉब्लम्स का हवाला दिया।

सूत्रों ने बताया कि ड्यूटी टाइम पूरा होने के कारण पायलट फ्लाइट छोड़कर चले गए थे। फ्लाइट लेट होने की वजह से पैसेंजर्स ने एअर इंडिया मैनेजमेंट से नाराजगी जताई। सोमवार को दिल्ली से पुणे जा रहे पैसेंजर्स ने बताया कि फ्लाइट में कई बच्चे और बुजुर्ग फ्लाइट के उड़ने के इंतजार में बैठे थे। सबका दम घुट रहा था।

7:10 की फ्लाइट 11:15 बजे दिल्ली से रवाना हुई
पैसेंजर्स ने बताया कि 25 सितंबर को दिल्ली-पुणे फ्लाइट शाम 7 बजकर 10 मिनट पर टेक ऑफ करने वाली थी। इसके पुणे पहुंचने का समय 9 बजकर 10 मिनट था। हालांकि, सोमवार को यह फ्लाइट रात 9 बजे दिल्ली से रवाना हुई और 11 बजे पुणे पहुंची।

वहीं 26 सितंबर को विमान के पायलट रात साढ़े 10 बजे ड्यूटी पर पहुंचे। फिर सवा 11 बजे विमान पुणे के लिए रवाना हुई। इस दौरान लोग ई-मेल और वॉट्सऐप के जरिए लगातार एयरलाइन कंपनी से संपर्क साधने की कोशिश करते रहे।

पैसेंजर बोले- लगता है किसी ने किडनैप कर लिया हो
दिल्ली-पुणे फ्लाइट के कई यात्रियों ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म एक्स पर एअर इंडिया के खिलाफ नाराजगी जाहिर की। नीरज शुक्ला ने 25 सितंबर को लिखा- हम लोग एक घंटे से फ्लाइट में बैठे हैं, क्योंकि आपका पायलट समय पर नहीं पहुंचा है। किसी भी स्टाफ को इसका कारण नहीं पता है। ऐसा लग रहा है जैसे दम घोंटने वाले माहौल में किडनैप कर लिया गया हो।

3 महीने में पायलट के विमान छोड़ने की चौथी घटना

5 जुलाई: दिल्ली से कोलकाता जाने वाली इंडिगो फ्लाइट 5 जुलाई को पायलट के न आने से एक घंटे देर से उड़ान भरी। पायलट के इंतजार में सभी पैसेंजर्स ने अंताक्षरी खेली। नए पायलट के आने के बाद लगभग रात 9 बजकर 30 मिनट में विमान ने उड़ान भरी। फ्लाइट में 180 यात्री सवार थे।