वित्त मंत्री ने रिजर्व बैंक के सेंट्रल बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स को किया संबोधित, सरकार की प्राथमिकताओं पर रखी बात

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने मंगलवार को रिजर्व बैंक के सेंट्रल बोर्ड के निदेशकों को संबोधित किया। अपने संबोधन में सीतारमण ने वित्त वर्ष 2021-22 के बजट के पीछे की सोच और सरकार की प्राथमिकताओं को रेखांकित किया। बोर्ड के सदस्यों ने बजट को लेकर वित्त मंत्री की सराहना की और विभिन्न तरह के सुझाव भी दिए। रिजर्व बैंक के सेंट्रल बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स की 587वीं बैठक वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए हुई। यह बैठक आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास की अध्यक्षता में हुई। वित्त मंत्री सीतारमण के साथ वित्त एवं कॉरपोरेट राज्य मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर, वित्त एवं राजस्व विभाग के सचिव अजय भूषण पाण्डेय और दीपम सचिव तुहीन कांता पाण्डेय ने भी इस बैठक में हिस्सा लिया।

आरबीआई बोर्ड की ने अर्थव्यवस्था से जुड़ी वर्तमान परिस्थितियों, वैश्विक और घरेलू चुनौतियों और आरबीआई के कामकाज से जुड़े विभिन्न पहलुओं की समीक्षा की। इसमें बैंकों से जुड़े शिकायतों के निपटारे की व्यवस्था को सुदृढ़ करने के उपायों पर भी चर्चा हुई।

इस बैठक में आरबीआई के डिप्टी गवर्नर्स- बी पी कानूनगो, महेश कुमार जैन, माइकल डी पात्र और एम. राजेश्वर राव एवं केंद्रीय बोर्ड के अन्य निदेशकों- एन चंद्रशेखरन, दिलीप एस सिंघवी, सतीश के मराठे, एस गुरुमूर्ति, रेवती अय्यर और प्रोफेसर सचिन चतुर्वेदी ने हिस्सा लिया। इनके अलावा वित्तीय सेवा विभाग में सचिव देवशीष पाण्डेय और आर्थिक मामलों के सचिव तरूण बजाज ने भी इस अहम बैठक में शिरकत की।